BPSC TRE 3.O Cancelled: बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा रद्द, पेपर लीक के बाद मचा था बवाल

BPSC TRE 3.O Cancelled: पेपर लीक होने के बाद शिक्षक भर्ती परीक्षा के तीसरे चरण को रद्द करने का फैसला लिया गया है. आर्थिक अपराध इकाई ने माना है कि परीक्षा का पेपर पहले ही गिरोह के पास पहुंच गया था.

BPSC TRE 3.O Cancelled

पेपर लीक के बाद बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा रद्द

BPSC TRE 3.O Cancelled: बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) ने शिक्षक भर्ती परीक्षा 2024 रद्द कर दी है. पेपर लीक होने के बाद शिक्षक भर्ती परीक्षा के तीसरे चरण को रद्द करने का फैसला लिया गया है. आर्थिक अपराध इकाई ने माना है कि परीक्षा का पेपर पहले ही गिरोह के पास पहुंच गया था. आयोग ने कहा कि परीक्षा की नई तिथि का ऐलान बाद में किया जाएगा.

ये भी पढ़ेंः मधेपुरा को बनाई राजनीतिक जमीन, नाम लेने से डरते थे लोग…कहानी लालू यादव के करीबी रहे ‘रॉबिनहुड’ पप्पू यादव की

क्या बोला BPSC?

बीपीएससी ने बयान जारी कर कहा, “आर्थिक अपराध इकाई द्वारा लिखित सूचना दी गई है कि 15 मार्च को दो पालियों में ली गई शिक्षक भर्ती परीक्षा के प्रश्न-पत्र परीक्षा के पूर्व ही संगठित गिरोह के पास पहुंच गए थे. इस कारण दोनों पालियों की परीक्षा को रद्द किया जाता है.”

बता दें कि बिहार शिक्षक भर्ती के तीसरे चरण के लिए 15 मार्च को परीक्षा का आयोजन किया गया था. आर्थिक अपराध इकाई के अनुसार, सॉल्वर गैंग ने अभ्यर्थियों को झारखंड के हजारीबाग में स्थित होटल में बुलाया था. जहां पेपर के सेट मौजूद थे.

तेजस्वी का सरकार पर हमला

पेपर लीक की घटना पर बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार को घेरा है. उन्होंने कहा कि पेपर लीक कराने वाले नकल माफिया को बचाने के लिए मंत्री प्रशासन पर दबाव बना रहे हैं. उन्होंने X पर लिखा, “हमारे 17 महीनों का सुनहरा कार्यकाल जिसमें पारदर्शी और निष्पक्ष तरीके से युवाओं को 4 लाख से अधिक नौकरियां दी गई, वह बिहार में प्रतियोगी परीक्षाओं का स्वर्णिम काल था. अब नीतीश-भाजपा सरकार ने डेढ़ महीने में ही 𝟏𝟕 साल के पुराने कारनामों को दोहराते हुए नकल माफिया को इतना प्रोत्साहन दे दिया कि बीपीएससी शिक्षक भर्ती के तीसरे चरण में प्रतियोगी परीक्षाओं के विश्व इतिहास में प्रथम बार एडमिट कार्ड में ही आंसर-की बतायी जा रही है… और तो और पेपर लीक कराने वाले नकल माफिया को बचाने के लिए इनके वरिष्ठ मंत्री प्रशासन पर दबाव बना रहे हैं. पुलिस को फोन कर रहे मंत्रियों का नाम- बूझों तो जाने.”

ज़रूर पढ़ें