CM केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ AAP का प्रदर्शन, पुलिस ने कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया, BJP कार्यकर्ता भी सड़क पर उतरे

AP Protest: शराब नीति मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में पीएम मोदी के घर का घेराव का आह्वान किया था. हालांकि, दिल्ली पुलिस ने विरोध मार्च या आंदोलन आयोजित करने की अनुमति नहीं दी थी.

AAP Protest

अरविंद केजरीवाल के गिरफ्तारी के खिलाफ आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

AAP Protest: शराब नीति मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में पीएम मोदी के घर का घेराव का आह्वान किया था. हालांकि, दिल्ली पुलिस ने विरोध मार्च या आंदोलन आयोजित करने की अनुमति नहीं दी थी. शराब नीति घोटाले से जुड़ी मनी लॉन्ड्रिंग जांच के सिलसिले में एजेंसी ने पिछले हफ्ते अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया था. भाजपा नैतिक आधार पर दिल्ली के मुख्यमंत्री पद से केजरीवाल के इस्तीफे की मांग कर रही है. अरविंद केजरीवाल फिलहाल 28 मार्च तक ईडी की हिरासत में हैं.

AAP के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए पार्टी वर्कर पटेल चौक मेट्रो स्टेशन के बाहर जमा होना शुरू हो गए हैं. इसको देकते हुए दिल्ली पुलिस ने ऐलान किया कि धारा 144 लगा दी गई है. ऐसे में किसी को विरोध प्रदर्श करने की इजाजत नहीं है. इसे देखते हुए एरिया को पांच मिनट में खाली कर दीजिए.

“अरविंद केजरीवाल से डरते हैं पीएम मोदी”

दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा कि पीएम मोदी और बीजेपी के राजनीतिक हथियार ईडी ने झूठे मुक़दमे में सीएम अरविंद केजरीवाल को गिरफ़्तार किया है. दो साल जांच करने के बाद लोकसभा चुनाव की घोषणा होने के बाद केजरीवाल को गिरफ्तार इसलिए किया गया क्योंकि पीएम मोदी केजरीवाल से डरते हैं. वहीं AAP की नेता रीना गुप्ता ने कहा कि हमारी मांग है कि सीएम अरविंद केजरीवाल की तुरंत रिहाई हो. उनकी गिरफ्तारी सही नहीं है. पीएम मोदी डरते हैं और वो चाहते हैं कि केजरीवाल लोकसभा चुनाव को लेकर प्रचार नहीं कर सके.

केजरीवाल की इस्तीफे को लेकर बीजेपी का प्रदर्शन

शराब नीति मामले में ईडी की हिरासत में मौजूद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के इस्तीफे की मांग को लेकर दिल्ली प्रदेश भाजपा ने विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान भारी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता सड़कों पर दिखें. इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच नोकझोंक भी हुई है. बीजेपी सांसद और नेता मनोज तिवार ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि सीएम केजरीवाल को नौ साल बाद दिल्ली याद आ रही है. उन्हें (केजरीवाल) को इस्तीफा देना चाहिए है. जेल से सरकार नहीं चलाई जा सकती है, लेकिन केजरीवाल ने संवैधानिक संकट पैदा किया है.

“मेट्रो स्टेशन पर उचित सुरक्षा व्यवस्था”

डीसीपी देवेश कुमार ने कहा, “हमने प्रधानमंत्री आवास और पटेल चौक मेट्रो स्टेशन पर उचित सुरक्षा व्यवस्था की है. विरोध प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी जाएगी.” उन्होंने कहा कि आम लोग भी मेट्रो से सफर करते हैं, लिहाज़ा उन्हें परेशानी न हो, इसके लिए हमने प्रदर्शनकारियों की पहचान करने और उन्हें हिरासत में लेने के वास्ते कर्मियों को तैनात किया है

ज़रूर पढ़ें