Assembly By Election: बीजेपी ने विधानसभा उपचुनाव के लिए जारी की सूची, हिमाचल में कांग्रेस के पूर्व नेताओं पर लगाया दांव

Assembly By Election: बीजेपी ने हिमाचल प्रदेश की धर्मशाला सीट से सुधीर शर्मा, लाहौल-स्पीति से रवि ठाकुर, सुजानपुर से राजिंदर राणा, बड़सर से इंद्र दत्त लखनपाल, गगरेट से चैतन्य शर्मा और कुटलैहड़ से देविन्दर कुमार भुट्टो को उम्मीदवार बनाया है.

Assembly By-Election

बीजेपी ने विधानसभा उपचुनाव के लिए जारी की सूची

Assembly By Election: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने चार राज्यों में होने वाले विधानसभा उपचुनाव के लिए उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है. पार्टी ने गुजरात की चार, हिमाचल प्रदेश की छह, कर्नाटक की एक और पश्चिम बंगाल की दो सीटों पर उम्मीदवार उतार दिए हैं. बता दें कि बीजेपी ने हिमाचल प्रदेश की सभी सीटों पर कांग्रेस के पूर्व नेताओं को ही टिकट दिया है.

कौन कहां से लड़ेगा चुनाव?

जानकारी के मुताबिक, बीजेपी ने हिमाचल प्रदेश की धर्मशाला सीट से सुधीर शर्मा, लाहौल-स्पीति से रवि ठाकुर, सुजानपुर से राजिंदर राणा, बड़सर से इंद्र दत्त लखनपाल, गगरेट से चैतन्य शर्मा और कुटलैहड़ से देविन्दर कुमार भुट्टो को उम्मीदवार बनाया है. वहीं, गुजरात की विजापुर से डॉ. चतुरसिंह जावंजी चावड़ा, पौरबंदर से अर्जुनभाई देवभाई मोधवाडिया, मनावदर से अरविन्दभाई जिनाभा लड़ानी, खंभात से चिरागकुमार अरविन्दभाई पटेल और वाघोडिया से धर्मेन्द्रसिंह रानुभा वाघेला को टिकट मिला है. बीजेपी ने कर्नाटक की शोरापुर (एसटी) से नरसिंहनायक (राजुगौड़ा) को उम्मीदवार बनाया है. वहीं, पश्चिम बंगाल की भगवानगोला सीट से भास्कर सरकार और बारानगर से सजल घोष को टिकट मिला है.

कांग्रेस के बागियों पर जताया भरोसा

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने कांग्रेस के पूर्व नेताओं को चुनावी रण में उतारा है. याद दिला दें कि राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करने के बाद स्पीकर ने विधायक सुधीर शर्मा, रवि ठाकुर, राजिंदर राणा, इंद्र दत्त लखनपाल, चैतन्य शर्मा और देविन्दर कुमार भुट्टो को अयोग्य करार दिया था. जिसके बाद शनिवार, 23 मार्च को सभी ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण कर ली. वहीं, बीजेपी ने अब धर्मशाला से सुधीर शर्मा, लाहौल-स्पीति से रवि ठाकुर, सुजानपुर से राजिंदर राणा, बड़सर से इंद्र दत्त लखनपाल, गगरेट से चैतन्य शर्मा और कुटलैहड़ से देविन्दर कुमार भुट्टो को टिकट दे दिया है. बता दें कि हिमाचल की सभी सीटों पर 1 जून को वोट डाले जाएंगे.

ये भी पढ़ेंः पीलीभीत में BJP के लिए मुसीबत बन सकते हैं वरुण गांधी, दशकों से इस सीट पर रहा है परिवार का वर्चस्व

राज्यसभा चुनाव में हुआ था खेला

गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश में राज्यसभा की एक सीट पर चुनाव था. कांग्रेस के पास 40 विधायक थे, इसलिए पार्टी के उम्मीदवार अभिषेक मनु सिंघवी की जीत तय मानी जा रही थी. लेकिन कांग्रेस के 6 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग कर दी. तीन निर्दलीय विधायकों ने भी बीजेपी उम्मीदवार के पक्ष में वोट डाल दिया. इससे बीजेपी उम्मीदवार हर्ष महाजन की जीत हुई. राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करने के बाद ही स्पीकर ने विधायक सुधीर शर्मा, रवि ठाकुर, राजिंदर राणा, इंद्र दत्त लखनपाल, चैतन्य शर्मा और देविन्दर कुमार भुट्टो को अयोग्य करार दिया था.

ज़रूर पढ़ें