Congress Bank Accounts: लोकतंत्र फ्रीज करने वाले राहुल गांधी के बयान पर भड़के रविशंकर प्रसाद, बोले- भारत के लोकतंत्र को इस तरह शर्मसार न करें

Congress Bank Accounts: कांग्रेस के आरोपों पर भाजपा ने बड़ा हमला बोला है. भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आने वाले लोकसभा चुनाव में हार की हताशा में एक बहाना ढूंढा जा रहा है.

Congress Bank Accounts

रविशंकर प्रसाद

Congress Bank Accounts: कांग्रेस ने मोदी सरकार पर बैंक अकाउंट फ्रीज करवाने का आरोप लगाया है. राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस के बैंक अकाउंट फ्रीज नहीं किए गए हैं, ये भारत का लोकतंत्र फ्रीज किया गया है. वहीं, अब कांग्रेस के आरोपों पर भाजपा ने बड़ा हमला बोला है. भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आने वाले लोकसभा चुनाव में हार की हताशा में एक बहाना ढूंढा जा रहा है.

ये भी पढ़ेंः कांग्रेस के अकाउंट फ्रीज मामले पर बोले राहुल गांधी- ‘हम 2 रुपये का पेमेंट नहीं कर पा रहे, 200 करोड़ रुपए का जुर्माना लगा दिया’

रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर दुनिया भर में भारत के लोकतंत्र को बदनाम करने का आरोप गया. भाजपा मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “राहुल गांधी ने कहा है कि कांग्रेस का बैंक अकाउंट अगर फ्रीज हुआ है, तो देश का अकाउंट फ्रीज हो गया है. आखिर उका मतलब क्या है? राहुल गांधी भारत के लोकतंत्र को इस तरह शर्मसार न करें. ये देश और देश का लोकतंत्र कांग्रेस पार्टी से बड़ा है.” प्रसाद ने आगे कहा, आज राहुल और सोनिया गांधी ने दुनियाभर में भारत के लोकतंत्र को बदनाम किया है.

भाजपा अध्यक्ष ने कही ये बात

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्ड ने भी कांग्रेस पर निशाना साधा है. उन्होंने X पर लिखा, “कांग्रेस को जनता पूरी तरह से खारिज कर देगी और ऐतिहासिक हार के डर से उनके शीर्ष नेतृत्व ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया और भारतीय लोकतंत्र और संस्थानों के खिलाफ बयानबाजी की. वे आसानी से अपनी अप्रासंगिकता का दोष ‘वित्तीय परेशानियों’ पर मढ़ रहे हैं. दरअसल, उनका दिवालियापन आर्थिक नहीं, बल्कि नैतिक और बौद्धिक है. अपनी गलतियों को सुधारने के बजाय, कांग्रेस अपनी परेशानियों के लिए अधिकारियों को दोषी ठहरा रही है. चाहे ITAT हो या दिल्ली HC, उन्होंने कांग्रेस से नियमों का पालन करने, बकाया करों का भुगतान करने के लिए कहा है लेकिन पार्टी ने कभी ऐसा नहीं किया. जिस पार्टी ने हर क्षेत्र, हर राज्य और इतिहास के हर पल में लूट की हो, उसके लिए वित्तीय लाचारी की बात करना हास्यास्पद है. जीप से लेकर हेलिकॉप्टर घोटाले से लेकर बोफोर्स तक सभी घोटालों से जमा हुए पैसे का इस्तेमाल कांग्रेस अपने चुनाव प्रचार में कर सकती है. कांग्रेस के अंशकालिक नेता कहते हैं कि भारत का लोकतंत्र होना झूठ है – क्या मैं उन्हें विनम्रतापूर्वक याद दिला सकता हूं कि 1975 और 1977 के बीच केवल कुछ महीनों के लिए भारत एक लोकतंत्र नहीं था और उस समय भारत की प्रधान मंत्री कोई और नहीं बल्कि श्रीमती इंदिरा गांधी थीं.”

ज़रूर पढ़ें