Delhi Liquor Scam Case: रामायण और गीता के साथ पीएम से जुड़ी ये किताब, सीएम केजरीवाल के वकील ने कोर्ट में रखी गई मांग

Delhi Liquor Scam Case: ईडी द्वारा कोर्ट में कहा गया है कि मुख्यमंत्री सवालों का जवाब नहीं दे रहे हैं. उनके ओर से जांच में सहयोगी नहीं किया जा रहा है.

Delhi Liquor Scam, CM Arvind Kejriwal

सीएम अरविंद केजरीवाल

Delhi Liquor Scam Case: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सोमवार को दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया. सीएम अरविंद केजरीवाल को अदालत ने 15 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. इससे पहले ईडी ने आम आदमी पार्टी के संयोजक को रिमांड पूरी होने के बाद कोर्ट में पेश किया. ईडी ने कोर्ट से मुख्यमंत्री को रिमांड के बजाय न्यायिक रिमांड पर भेजने की मांग रखी, जिसे अदालत ने मान लिया.

सीएम अरविंद केजरीवाल को जेल भेजे जाने के बाद कोर्ट के सामने तीन मांगे रखी हैं. मुख्यमंत्री के वकील ने कोर्ट से सीएम को तीन किताबें, दवाइयां, स्पेशल डाइट और कुर्सी-मेज दिए जाने की मांग रखी है. सीएम के वकील ने जिन तीन किताबों की मांग रखी है उसमें भगवत गीता, रामायण और पत्रकार नीरजा चौधरी द्वारा लिखी गई हाउ प्राइम मिनिस्टर्स डिसाइड शामिल है.

ईडी ने कोर्ट में रखी अहम बातें

हालांकि वकील की डिमांड पर सीएम अरविंद केजरीवाल को जेल में ये सब चीजें उपलब्ध कराई जाएंगी या नहीं, इसपर कोर्ट ने कोई फैसला नहीं दिया है. आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को राउज एवेन्यू कोर्ट की स्पेशल जज कावेरी बावेजा के सामने पेश किया गया था. जिसके बाद उन्हें 15 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. वहीं सुनवाई के दौरान ईडी ने कई अहम बातें कोर्ट के सामने कही हैं.

ईडी द्वारा कोर्ट में कहा गया है कि मुख्यमंत्री सवालों का जवाब नहीं दे रहे हैं. उनके ओर से जांच में सहयोगी नहीं किया जा रहा है. गौरतलब है कि अब सीएम अरविंद केजरीवाल दिल्ली की तिहाड़ जेल में बैरक नंबर 5 में रहेंगे. सूत्रों की मानें तो पहले इसी बैरक में AAP सांसद संजय सिंह को रखा गया था. सीएम केजरीवाल को लेकर जेल में तैयारियां शुरू कर दी गई हैं.

ये भी पढ़ें: Delhi Liquor Scam Case: सीएम अरविंद केजरीवाल को नहीं मिली राहत, अदालत ने 15 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेजा

बता दें कि इसी जेल के बैरक नंबर एक में पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को रखा गया है. हालांकि उन्हें जेल में क्या खाना दिया जाएगा या क्या सुविधाएं मिलेंगी इसको लेकर अभी तक जानकारी सामने नहीं आ पाई है. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री को बीते 21 मार्च को ईडी ने गिरफ्तार किया था.

ज़रूर पढ़ें