Sanjay Singh Bail: ‘केस अभी चल रहा है’, संजय सिंह की रिहाई पर BJP का तंज, कहा- जमानत मिलती है तो खत्म भी होती है

Sanjay Singh Bail: उनकी रिहाई पर AAP नेताओं ने खुशी जाहिर कि है तो वहीं भारतीय जनता पार्टी(BJP) के नेता इस पर तंज कसते नजर आए.

Sanjay Singh Bail

संजय सिंह की रिहाई पर BJP का तंज

Sanjay Singh Bail: बुधवार की रात दिल्ली शराब घोटाला मामले में आम आदमी पार्टी नेता संजय सिंह की तिहाड़ जेल से रिहाई हो गई. उनकी रिहाई पर पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाया है. वहीं जेल से छुटने के बाद उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि यह वक्त जश्न मनाने का नहीं है. यह वक्त संघर्ष करने का है. हमारी पार्टी के सबसे बड़े नेता अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन को जेल में रखा गया है, हमें पूरा भरोसा है कि इस जेल के ताले टूटेंगे और अरविंद केजरीवाल छूटेंगे. उनकी रिहाई पर AAP नेताओं ने खुशी जाहिर कि है तो वहीं भारतीय जनता पार्टी के नेता इस पर तंज कसते नजर आए.

‘इससे पार्टी की सोच का पता चलता है’

AAP सांसद संजय सिंह के तिहाड़ जेल से बाहर आने पर दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने बड़ा हमला बोला. उन्होंने कहा, ‘भ्रष्टाचारी पार्टी के एक नेता अगर जमानत पर बाहर आते हैं और वह पार्टी उसका जश्न मनाती है तो इससे उस पार्टी की सोच का पता चलता है. जमानत पर बाहर आना अपराध मुक्त होना नहीं है, जमानत मिलती है तो जमानत खत्म भी होती है.’

उन्हें सशर्त बेल मिली है- मनोज तिवारी

AAP नेता संजय सिंह के तिहाड़ जेल से बाहर आने पर भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘ यही हम कह रहे हैं कोर्ट का काम है कि किसे बेल देना है किसे नहीं, हालांकि बेल ही मिली है, वह शराब घोटाले से बरी नहीं हुए हैं लेकिन उत्सव ऐसा मना रहे हैं जैसे पूरे घोटाले से बरी हुए हैं.’ उन्होंने दावा किया कि केस चल रहा है और उन्हे बेल इसलिए मिली क्योंकि ED ने इसका विरोध नहीं किया. कोर्ट के बयान का हवाला देते BJP नेता ने कहा कि कोर्ट ने कहा है कि इस मुद्दे पर संजय सिंह को कुछ कहना नहीं है, उन्हें सशर्त बेल मिली है.

यह भी पढ़ें: Delhi Liquor Scam: ‘केजरीवाल ने खुद नहीं संभाला हवाला लेनदेन लेकिन…’, ED ने दिल्ली के सीएम की अर्जी पर कोर्ट में दाखिल किया जवाब

‘दिल्ली की जनता को BJP से उम्मीद’

संजय सिंह और AAP पर तंज कसते हुए मनोज तिवारी ने आगे कहा कि हम इस बात से खुश है कि अब यह शायद नहीं कहेंगे कि BJP जेल भेजती है. जेल भेजना और बेल देना कोर्ट का काम है और हम कोर्ट के हर निर्णय का स्वागत करते हैं लेकिन केस चल रहा है. दिल्ली के लोग सबसे ज्यादा इस बात से दुखी है कि 10 साल में अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली को कहीं का नहीं छोड़ा. अब उन्हें BJP से उम्मीद है.

ज़रूर पढ़ें