Lok Sabha Election: सीट शेयरिंग में हिस्सेदारी न मिलने पर पशुपति पारस ने छोड़ा था NDA का साथ, अब लिया यू-टर्न, बोले- रिकॉर्ड बहुमत से बनेगी सरकार

Lok Sabha Election 2024: NDA के सीट शेयरिंग से नाराज होकर केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वाले पशुपति पारस ने बड़ा ऐलान किया है.

Pashupati Paras, Lok Sabha Election

पीएम मोदी और पशुपति पारस

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव को लेकर देश में सियासी सरगर्मी तेज है. बिहार में भी राजनीतिक पारा हाई होता जा रहा है. इस बीच भारतीय जनता पार्टी(BJP) के अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन(NDA) के सीट शेयरिंग से नाराज होकर केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वाले राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष पशुपति पारस(Pashupati Paras) ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने यू-टर्न लेते हुए कहा कि उनकी पार्टी एनडीए का अभिन्न अंग है.

पशुपति पारस ने कहा पीएम मोदी हमारे भी नेता

रालोजपा अध्यक्ष पशुपति पारस ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘X’ लिखा, ‘हमारी पार्टी रालोजपा, एनडीए का अभिन्न अंग है. पीएम मोदी हमारे भी नेता है और उनका निर्णय हमारे लिए सर्वोपरि है. एवं उनके नेतृत्व में एनडीए पूरे देश में 400+ सीट जीतकर तीसरी बार रिकॉर्ड तोड़ बहुमत से NDA की सरकार बनेगी. साथ ही बिहार की 40 लोकसभा सीटों पर विजय प्राप्त करने में हमारी पार्टी का पूर्ण समर्थन है और रहेगा.’

यह भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2024: केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दे सकते हैं नाराज पशुपति पारस, RJD से मिला ये ऑफर!

चिराग की पार्टी LJPR को मिली हैं 5 सीटें

बता दें कि 18 मार्च को बिहार में NDA की सीट शेयरिंग के तहत, जेडीयू 16 सीटों पर, बीजेपी 17 सीटों पर, लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास ) 5 सीटों पर और मांझी की पार्टी हम 1 सीट पर चुनाव लड़ेगी. वहीं राष्ट्रीय लोक समता पार्टी को 1 सीट दी गई है. वहीं सीट शेयरिंग से नाराज होकर पशुपति पारस ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था.

हमारे साथ नाइंसाफी हुई- पशुपति पारस

वहीं पशुपति पारस ने इस्तीफा के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था, ‘5-6 दिन पहले मैंने प्रेस वार्ता में कहा था कि मैं तब तक इंतजार करूंगा जब तक NDA सीटों की घोषणा नहीं करती. मैंने बहुत ईमानदारी से NDA की सेवा की. पीएम नरेंद्र मोदी देश के बड़े नेता हैं, लेकिन हमारी पार्टी और व्यक्तिगत रूप से हमारे साथ नाइंसाफी हुई. इसलिए मैं केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा देता हूं.’

यह भी पढ़ें: Lok Sabha Election: भतीजे को तरजीह देने पर चाचा नाराज, सीट शेयरिंग पर पशुपति की चेतावनी, बोले- नहीं मिला सम्मान तो हम कहीं भी जाने को स्वतंत्र

महागठबंधन में शामिल होने की थी अटकलें

चिराग पासवान को तवज्जो देने के बाद पशुपति पारस नाराज थे. और उनके इस्तीफे के बाद अटकलें थी कि RJD ने उन्हें महागठबंधन में शामिल होने का ऑफर दिया हैं. सूत्रों के मुताबिक RJD की ओर से उन्हें ‘INDI’ गठबंधन में आने के लिए तीन सीटों का ऑफर दिया था. हालांकि इस दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री या उनकी पार्टी की ओर से ‘INDI’ गठबंधन के किसी ऑफर पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई थी.

ज़रूर पढ़ें