UP News: सीएम योगी ने मेघालय CM से की बात, कुछ घंटों में ही बरामद हुए किडनैप अखिलेश

UP News: यूपी के एक सिविल इंजीनियर का मेघालय के साउथ गारो हिल्स में कथित तौर पर अपहरण कर लिया गया. इंजीनियर की पत्नी शीला सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मदद की गुहार लगाई थी.

UP News

सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ और अखि‍लेश स‍िंह चौहान

UP News: यूपी के एक सिविल इंजीनियर का मेघालय के साउथ गारो हिल्स में कथित तौर पर अपहरण कर लिया गया. इंजीनियर की पत्नी शीला सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अपने पति अखिलेश सिंह चौहान को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराने की अपील की थी. जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मेघालय के सीएम से गुरुवार को बात कर सकुशल बरामदी की बात कही थी. वहीं बाघमारा की पुलिस ने अखिलेश को जंगल से अभियान चलाते हुए पूर्व उग्रवादी के चंगुल से सकुशल बरामद कर लिया. साथ ही दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया.

बाघमारा की पुलिस ने बताया कि अखिलेश पूरी तरह से ठीक हैं. मंगलवार देर रात करीब 1.40 पर अखिलेश को दक्षिण गारो पहाड़ियों के पास एनएच-217 पर निर्माणाधीन रोंगडिक पुल के पास उसके अस्थायी टेंट से कुछ लोगों के समूह ने अपहरण कर लिया था. सिजु पुलिस ने अपहरण का मुकदमा दर्ज कर तलाश शुरु की.

ये भी पढ़ें- Lok Sabha Election 2024: यूपी में तेज हुई सियासी हलचल, सपा से अलग हुईं पल्लवी पटेल, बसपा ने दिया ये ऑफर

फिरौती के लिए अपहरण 

इस मामले की अधिक जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि अखिलेश का अपहरण एक पूर्व उग्रवादी समूह ने किया था. जिसके आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है जबकि दो अन्य की तलाश जारी है. पुलिस ने आगे बताया कि अखिलेश की सुरक्षा जरूरी थी. इसलिए सर्च अभियान के दौरान पहले उनको सुरक्षित बरामद किया गया. फिर आरोपियों को पकड़ा गया. गिरफ्तार किए गए आरोपियों ने बताया कि अखिलेश के रिहाई के बदले निर्माण कंपनी से फिरौती वसूलना चाहते थे.

यूपी के गाजीपुर के रहने वाले हैं अखिलेश

बता दें कि अखिलेश यूपी के ग़ाज़ीपुर का रहने वाले हैं और उनका परिवार गुडम्बा में किराए के मकान में रहता है. अपहत अखिलेश के पत्नी ने  बताया था कि उनके पति पिछले छह महीने से मेघालय के भामारा के खारोकल में रोंडिक पुल का निर्माण करा रहे हैं. शीला ने आगे कहा, “मैंने मंगलवार रात 11.30 बजे अपने पति से बात की. मंगलवार आधी रात को मुझे ठेकेदार का फोन आया, जिसने मुझे बताया कि अखिलेश का अपहरण कर लिया गया है. ठेकेदार ने कहा कि सीजू पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया गया है.”

ज़रूर पढ़ें