देर रात गाजीपुर पहुंचा Mukhtar Ansari का शव, आज होगा सुपुर्द-ए-खाक, बेटे अब्बास को नहीं मिली जनाजे में शामिल होने की अनुमति

Mukhtar Ansari Death: उत्तर प्रदेश के मऊ से पूर्व विधायक और माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की गुरुवार को मौत हो गई थी. मौत का कारण कार्डियक अरेस्ट बताया गया है. बांदा मेडिकल कॉलेज में मुख्तार का पोस्टमार्टम पूरा होने के बाद उसके शव को बेटे उमर अंसारी को सौंप दिया गया.

Mukhtar Ansari Death

गाजिपुर में आज मुख्तार अंसारी को सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा

Mukhtar Ansari Death: उत्तर प्रदेश के मऊ से पूर्व विधायक और माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की गुरुवार को मौत हो गई थी. मौत का कारण कार्डियक अरेस्ट बताया गया है. बांदा मेडिकल कॉलेज में मुख्तार का पोस्टमार्टम पूरा होने के बाद उसके शव को बेटे उमर अंसारी को सौंप दिया गया. मुख्तार की मौत के बाद गाजीपुर और मऊ समेत पूरे उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट है. पुलिस ने सभी जिलों में पहरा बढ़ा दिया है. दरअसल बांदा जेल में अचानक मुख्तार अंसारी की तबीयत बिगड़ गई थी, जिसके बाद उसे बांदा मेडिकल कॉलेज इलाज ले जाया गया था, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

मुख्तार अंसारी का शव गाजीपुर पहुंच चुका है. मोहम्मदाबाद स्थित मुख्तार के घर पर उसके शव को ग्लास के एक चैंबर में रखा गया है. बता दें कि जेल में बंद मुख्तार के बेटे अब्बास अंसारी को जनाजे में आने की इजाजत नहीं मिल सकी है. इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई नहीं होने के बाद अफजाल के वकील ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था लेकिन कोई हल नहीं निकल सका.

ये भी पढ़ें- Mukhtar Ansari: मुख्तार अंसारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई सामने, इस वजह से हुई मौत, विसरा रखा गया सुरक्षित

परिवार की मौजूदगी में सुपुर्द-ए-खाक

आज मुख्तार अंसारी को कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा. इसके लिए डीआईजी वाराणसी रेंज ओमप्रकाश सिंह, जिलाधिकारी आर्यका अखौरी और एसपी ओमवीर सिंह ने पुलिस बल के साथ कब्रिस्तान का मुआयना भी किया है. मुख्तार अंसारी की कब्र उनके पिता सुभान उल्लाह अंसारी के बगल में खोदी जाएगी. वहीं मुख्तार अंसारी का शव परिवारवालों की मौजूदगी में सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा.

जनाजे से पहले पढ़ी जाएगी नमाज

अब्बास अंसारी ने अपने पिता मुख्तार के जनाजे में शामिल होने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था. सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को छुट्टी थी, इसलिए अब्बास अंसारी के वकील ने SC के वैकेशन ऑफिसर से संपर्क किया और कोर्ट से जल्द से जल्द इस मांग पर सुनवाई की मांग की थी. मुख्तार अंसारी का जनाजा निकलने से पहले नमाज पढ़ी जाएगी और उसके बाद अंतिम क्रिया की जाएगी. सुबह करीब दस बजे नमाज-ए-जनाजा होगी. इसके बाद मुख्तार अंसारी को सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा.

ज़रूर पढ़ें