Chhattisgarh News: लोकसभा का टिकट मिलने पर कवासी लखमा बोले- बेटे के लिए बहू मांगने गया था, पार्टी ने मुझे दुल्हन पकड़ा दी

Chhattisgarh News: जनसभा को संबोधित करने के दौरान कवासी लखमा ने पीसीसी अध्यक्ष दीपक बैज को पार्टी का सबसे बड़ा नेता भी बता दिया. हालांकि दीपक बैज का टिकट कटने से उनके समर्थक नाराज बताए जा रहे है, लेकिन अब तक उनकी नाराजगी छिपी हुई है.

Chhattisgarh News

पूर्व कैबिनेट मंत्री कवासी लखमा

Chhattisgarh News: बस्तर लोकसभा सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी कवासी लखमा हमेशा अपने बयानों की वजह से चर्चा में रहते है, वहीं बुधवार को कवासी लखमा का दिया एक और बयान चर्चा का विषय बन गया हैं.

दरअसल जगदलपुर के लालबाग मैदान में नामांकन सभा के दौरान लखमा जनसभा को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान लखमा ने बेहद मजाकिया अंदाज में कहा कि मैं अपने बेटे के लिए डौकी (यानी कि पत्नी) मांगने गया था. पार्टी ने मुझे पत्नी पकड़ा दी. लखमा के इस बयान के बाद सभा में ठहाके लगने लगे.

पीसीसी अध्यक्ष दीपक बैज का टिकट काटकर लखमा को दिया टिकट

दरअसल पीसीसी अध्यक्ष दीपक बैज का टिकट काटकर बस्तर लोकसभा से कांग्रेस ने कोंटा विधानसभा से 6 बार के विधायक कवासी लखमा को प्रत्याशी बनाया है. टिकट की दौड़ में कवासी लखमा दिल्ली तक पहुंच गए थे. लखमा चाहते थे की पार्टी उनके बेटे हरीश कवासी को टिकट मिले. हरीश सुकमा जिला पंचायत अध्यक्ष भी हैं, लेकिन पार्टी ने आखिर में कवासी लखमा को ही प्रत्याशी घोषित कर दिया. कवासी ने बातों बातों में पार्टी के अंदर टिकट को लेकर चल रही खींचतान भी जाहिर कर दी.

ये भी पढ़ें – भूपेश बघेल ने पीडीएस को लेकर साय सरकार पर कसा तंज, सीएम ने दिया जवाब

कवासी लखमा ने पीसीसी अध्यक्ष दीपक बैज को पार्टी का सबसे बड़ा नेता

जनसभा को संबोधित करने के दौरान कवासी लखमा ने पीसीसी अध्यक्ष दीपक बैज को पार्टी का सबसे बड़ा नेता भी बता दिया. हालांकि दीपक बैज का टिकट कटने से उनके समर्थक नाराज बताए जा रहे है, लेकिन अब तक उनकी नाराजगी छिपी हुई है. कवासी लखमा जानते है की अगर उन्हें बस्तर में जीत हासिल करनी है तो उन्हें दीपक बैज के गुट को भी साधना होगा. कवासी लखमा ने मंच से कहा कि दीपक बैज पीसीसी अध्यक्ष है, इस नाते वे प्रदेश के सबसे बड़े नेता होंगे और उनकी जिम्मेदारी 11 लोकसभा सीट जीतने की होगी.

ज़रूर पढ़ें