“जेल के ताले टूटेंगे, केजरीवाल-सिसोदिया छूटेंगे…”, 6 महीने बाद रिहा हुए Sanjay Singh, बोले- हम जश्न नहीं मनाएंगे

तिहाड़ जेल के बाहर समर्थकों को संबोधित करते हुए आप नेता ने कहा, ‘जश्न मनाने का वक्त नहीं आया है, संघर्ष का वक्त है’. हमारी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं अरविंद केजरीवाल, सत्येंद्र जैन और मनीष सिसोदिया को सलाखों के पीछे रखा जा रहा है.”

Sanjay Singh

Sanjay Singh

शराब घोटाला मामले में जमानत मिलने के एक दिन बाद आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) बुधवार शाम को दिल्ली की तिहाड़ जेल से बाहर आ गए. प्रवर्तन निदेशालय के यह कहने के बाद कि उसे कोई आपत्ति नहीं है, सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को दिल्ली उत्पाद शुल्क नीति घोटाले से संबंधित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में राज्यसभा सांसद संजय सिंह को जमानत दे दी. सिंह को मंगलवार को लीवर से संबंधित समस्या के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था और आज उन्हें छुट्टी दे दी गई.

तिहाड़ जेल के बाहर समर्थकों को संबोधित करते हुए आप नेता ने कहा, ‘जश्न मनाने का वक्त नहीं आया है, संघर्ष का वक्त है’. हमारी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं अरविंद केजरीवाल, सत्येंद्र जैन और मनीष सिसोदिया को सलाखों के पीछे रखा जा रहा है. मुझे विश्वास है कि जेल के ताले टूटेंगे और वे बाहर आएंगे.”

आप नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा, ”संजय सिंह अभी जेल से बाहर आए हैं और हजारों पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया.उन्होंने कहा कि यह जश्न मनाने का नहीं बल्कि संघर्ष करने का समय है. हमारे तीन शीर्ष नेता- अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसौदिया और सत्येन्द्र जैन अभी भी जेल में हैं. जब तक उन्हें रिहा नहीं किया जाता, हम जश्न नहीं मनाएंगे, हम संघर्ष करते रहेंगे.”

ज़रूर पढ़ें