BJP में सुशील कुमार रिंकू और विधायक शीतल को Y कैटेगरी सुरक्षा मिली, छोड़ा था AAP का दामन

AAP के कार्यकर्ताओं ने सांसद सुशील रिंकू के बीजेपी में जाने के बाद विरोध प्रदर्शन किया था. तब AAP कार्यकर्ताओं ने दोनों ही नेताओं का पुतला फूकां था.

Sushil Kumar Rinku

AAP सांसद सुशील कुमार रिंकू

AAP छोड़कर बीते दिनों बीजेपी में शामिल हुए सांसद सुशील रिंकू और विधायक शीतल अंगुरात की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. इन दोनों ही नेताओं के सुरक्षा में पंजाब सरकार ने कटौती की थी. लेकिन अब केंद्र सरकार ने इन्हें फिर से ‘वाई कैटेगरी’ की सुरक्षा दी है. बीजेपी में शामिल होने के बाद दोनों ही नेताओं की सुरक्षा में भगवंत मान ने कटौती की थी. लेकिन अब केंद्र सरकार ने उनकी सुरक्षा फिर से बढ़ा दी है.

सांसद सुशील रिंकू और विधायक शीतल अंगुरात की सुरक्षा में अब सीआरपीएफ के जवाब तैनात रहेंगे. सीआरपीएफ के कंधे पर दोनों ही नेताओं के सुरक्षा की जिम्मेदारी होगी. सुरक्षा में बढ़ोतरी के बाद अब सांसद सुशील रिंकू की सुरक्षा में 18 जवान तैनात रहेंगे. जबकि विधायक शीतल की सुरक्षा में 11 सीआरपीएफ जवाब तैनात रखने का निर्देश दिया गया है. दोनों नेताओं की ये जवाब तीन शिफ्ट में सुरक्षा कवर करेंगे.

AAP का जबरदस्त विरोध प्रदर्शन

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सांसद सुशील रिंकू के बीजेपी में जाने के बाद विरोध प्रदर्शन किया था. तब AAP कार्यकर्ताओं ने दोनों ही नेताओं का पुतला फूकां था. विरोध प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं ने दोनों ही नेताओं के घरों की ओर जाने वाली सड़कों पर साइनबोर्ड तोड़ दिए थे. गौरतलब है कि सांसद सुशील रिंकू की सुरक्षा में पहले चार पुलिसकर्मी और चार ट्रेंड कमांडो रहते थे. लेकिन बीजेपी में उनके शामिल होने के बाद सरकार ने कटौती की थी. तब पंजाब सरकार ने चार कमांडो वापस बुला लिए थे.

ये भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2024: ‘अपने लोगों को नागरिकता देने का विरोध कर रही है कांग्रेस’, रुद्रपुर की चुनावी सभा में बोले PM मोदी

सांसद की सुरक्षा में कटौती पर बीजेपी नेताओं ने जिलाधिकारी हिमांशु अग्रवाल को चिट्ठी लिखी थी लेकिन फिर इस चिट्ठी का कोई फायदा नहीं हुआ था. बता दें कि सुशील रिंकू पहले कांग्रेस में थे लेकिन बाद में कांग्रेस छोड़कर आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए थे. तब AAP के टिकट पर उपचुनाव में जीत दर्ज की थी.

ज़रूर पढ़ें