Delhi Liquor Policy Case: सुनीता केजरीवाल की लोगों से सीएम को ‘समर्थन संदेश’ भेजने की अपील, कहा- ‘आपका हर मैसेज उन तक पहुंचेगा’

Delhi Liquor Policy Case: सीएम अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने कहा है कि पिछले 30 साल से मैं उनके साथ हूं. देशभक्ति उनके रोम-रोम में बसी है.

Lok Sabha Election 2024

सीएम अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल

Delhi Liquor Policy Case: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को गुरुवार को कोर्ट ने एक अप्रैल तक ईडी की कस्टडी में भेज दिया है. उन्हें ईडी ने बीते सप्ताह ही गिरफ्तार किया था. तब कोर्ट ने उन्हें 28 मार्च तक के लिए जेल में भेजा था. अब केजरीवाल को फिर से ईडी की कस्टडी में भेजे जाने के बाद उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल ने मीडिया से बात की है. इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री के समर्थन में एक मुहीम की अपील की.

सुनीता केजरीवाल ने कहा, “.उन्होंने (अरविंद केजरीवाल) जो कुछ कोर्ट के सामने बोला उसके लिए बहुत हिम्मत चाहिए. पिछले 30 साल से मैं उनके साथ हूं. देशभक्ति उनके रोम-रोम में बसी है. आपने अरविंद केजरीवाल को अपना भाई, अपना बेटा कहा है. क्या इस लड़ाई में आप अपने भाई, अपने बेटे का साथ नहीं देंगे? मैं आपको एक व्हाट्सएप नंबर(8297324624) दे रही हूं. आज से हम एक अभियान शुरू कर रहे हैं जिसका नाम है ‘केजरीवाल को आशीर्वाद’. इस व्हाट्सएप नंबर पर आप अपने अरविंद को आशीर्वाद भेज सकते हैं. आपका एक-एक मैसेज उन तक पहुंचेगा.”

ED मात्र BJP का राजनीतिक हथियार- AAP

मंत्री आतिशी ने कहा, ‘वो अरविंद केजरीवाल के फोन से जानना चाहते हैं कि लोकसभा चुनाव में AAP की क्या Strategy है. पंजाब, दिल्ली, गुजरात और असम के चुनाव में क्या रणनीति है. वो जानना चाहते हैं कि इंडिया गठबंधन ने जो देश भर में कराया है, उसमें क्या निकलकर आ रहा है. ED ने फिर से एक बार साबित कर दिया, कि वो मात्र BJP का राजनीतिक हथियार है.’

ये भी पढ़ें: Mukhtar Ansari Death: मुख्तार की मौत पर पूर्व BJP विधायक अलका राय बोलीं- ‘हमें लगा कि आज का दिन होली का दिन है’

उन्होंने कहा, ‘ऐसा क्या है अरविंद केजरीवाल जी के फोन में जो ED जानना चाह रही है, क्योंकि किसी जांच से तो जुड़ा नहीं हो सकता, जब फोन ही कुछ महीने पुराना है. आबकारी नीति जब बन रही थी, तब तो ये Phone इस्तेमाल में था नहीं. कुछ महीने पुराने Phone में क्या मिलेगा? कुछ महीने पुराने Phone में Lok Sabha चुनाव लड़ने की Strategy मिलेगी.’

ज़रूर पढ़ें