India Reply to Pakistan: IPU की बैठक में भारत ने पाकिस्तान को सुनाई खरी खोटी, कहा- ‘खराब ट्रैक रिकॉर्ड वाले देते हैं लोकतंत्र का उपदेश’

India Reply to Pakistan: स्विट्जरलैंड के जिनेवा में अंतर-संसदीय संघ (आइपीयू) की 148वीं बैठक हुई. जिसमें फिर पाकिस्तान की किरकिरी हुई है.

Harivansh

राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश

India Reply to Pakistan: अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत से सामने एक बार फिर से पाकिस्तान की किरकिरी हुई है. स्विट्जरलैंड के जिनेवा में अंतर-संसदीय संघ (आइपीयू) की 148वीं बैठक हुई. रविवार (24 मार्च) को हुई आइपीयू की बैठक में भारत ने पाकिस्तान को जमकर खरी खोटी सुनाई है. भारत ने बैठक के दौरान कहा कि लोकतंत्र का खराब ट्रैक रिकॉर्ड रखने वाले देश भी हमें लोकतंत्र का उपदेश देते हैं, यह काफी हास्यास्पद है.

भारत ने एक बार फिर से अंतराष्ट्रीय मंच पर पाकिस्तान की आतंकवाद को पनाह देने के लिए खिंचाई की है. इसके साथ ही भारत ने सलाह दी है कि पाकिस्तना अपने देश में आतंकी की फैक्टि्रयों को बंद करे. इस दौरान भारत ने सार्वजनिक तौर पर पाकिस्तान के खराब ट्रैक रिकॉर्ड का जिक्र किया है. न्यूज एजेंसी पीटीआई द्वारा इस संबंध में जानकारी दी है.

आइपीयू की बैठक में भारत का पक्ष राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने रखा. उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ जवाब देते हुए कहा कि मैं पाकिस्ताव द्वारा भारत के खिलाफ की गई हर बेतुकी टिप्पणी को खारिज करता हूं. भारत दुनिया में सबसे बड़ा लोकतंत्र है.

अंतरराष्ट्रीय मंचों का दुरुपयोग करने का आरोप

जम्मू-कश्मीर पर पाकिस्ताव के दावा की गई टिप्पणी का जिक्र करते हुए उपसभापति ने बैठक में कहा कि जिस देश में लोकतंत्र का ट्रैक रिकार्ड बेहद ही खराब हो उसे ऐसे उपदेश अन्य देशों को नहीं देने चाहिए. यह काफी हास्यास्पद है. उन्होंने इस दौरान पाकिस्तान पर अंतरराष्ट्रीय मंचों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया.

ये भी पढ़ें: Holi 2024: रंगों के त्योहार पर जश्न में डूबे लोग, महाकाल वन में खेली गई होली

राज्यसभा के उपसभापति ने कहा कि पाकिस्तान के आरोप बेतुके और झूठे नैरेटिव फैलाने वाले होते हैं. जम्मू-कश्मीर और लद्दाख हमेशा भारत का अभिन्न अंग रहा है और आगे भी रहेगा. किसी के द्वारा किया जाने वाला दुष्प्रचार मूल तथ्यों को खारिज नहीं कर सकता है. जम्मू-कश्मीर में सीमा पार हो रही आतंक फैसले ने की कोशिश बंद होनी चाहिए.

ज़रूर पढ़ें