Lok Sabha Election 2024: बिहार में 50% हिंदू प्रत्याशी उतार रही AIMIM, 15 से ज्यादा सीटों पर लड़ेगी चुनाव

Lok Sabha Election 2024: बिहार में AIMIM ने 15 सीटों पर उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है. पार्टी ने इन सीटों में से ज्यादातर सीटों पर उम्मीदवार के नाम तय कर लिए हैं.

CAA Implemented, AIMIM Chief Asaduddin Owaisi

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव के लिए अब दूसरे चरण का नामांकन शुरू होने के बाद हर पार्टी अपने उम्मीदवारों का नाम फाइनल करने में लगी हुई है. ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लेमीन यानी AIMAIM इस बार कई राज्यों में चुनाव लड़ रही है. अब AIMAIM ने बिहार की 15 से ज्यादा लोकसभा सीटों पर उम्मीदवार उतारने की तैयारी कर रही है. AIMAIM के प्रदेश अध्यक्ष अख्तरुल ईमान इस संबंध में जानकारी दी है.

अख्तरुल ईमान ने कहा, ‘हमने बीते दिनों 10 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया था. लेकिन अब हमने जनता के आग्रह करने पर पांच और सीटों पर प्रत्याशी उतारने का फैसला किया है. हम गोपालगंज, शिवहर, दरभंगा, वाल्मीकिनगर और मधुबनी सीट पर चुनाव लड़ेंगे. हमारा पार्टी मधुबनी सीट पर भी चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है. वहां पर लोगों ने हमारी पार्टी से चुनाव लड़ने का आग्राह किया है. हम बिहार की कुल 15 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं.’

इन 15 सीटों पर कर रहे तैयारी

बिहार में AIMIM ने किशनगंज, काराकाट, दरभंगा, पाटलिपुत्र, शिवहर, पूर्णिया, कटिहार, अररिया, मधुबनी, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, बाल्मीकि नगर और सीतामढ़ी सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं. इस बार किशनगंज से अख्तरुल इमाम AIMIM के टिकट पर चुनाव लड़े रहे हैं. AIMIM के प्रदेश अध्यक्ष ने बताया है कि हम राज्य में और भी सीटों पर उम्मीदवार उतार सकते हैं लेकिन अब तक 15 सीटों पर मंजूरी मिल चुकी है.

ये भी पढ़ें: Mukhtar Ansari Death: बांदा पहुंचे मुख्तार अंसारी के बेटे उमर, थोड़ी देर में होगा पोस्टमार्टम, उठ रही जांच की मांग

उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के प्रत्याशी हर सीट पर मजबूती के साथ चुनाव लड़ेंगे. यह आरोप लगाना गलत है कि हमारी पार्टी केवल मुस्लिमों को टिकट देती है. हमने जो प्रत्याशी उतारे हैं उनमें 50% हिंदू परिवार से आने वाले प्रत्याशी है. जैसे इंडिया गठबंधन का एक लक्ष्य है कि बीजेपी को सत्ता में नहीं आने दिया जाए. वैसे ही हमारा भी लक्ष्य है. हम हर संभव बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं.

ज़रूर पढ़ें