Lok Sabha Election 2024: चुनाव से पहले दिल्ली में जुटे INDI गठबंधन नेता, सुनीता केजरीवाल बोलीं- ‘केजरीवाल शेर हैं, ज्यादा दिन जेल में नहीं रख पाएंगे’

Lok Sabha Election 2024: इंडी गठबंधन की रैली में हिस्सा लेने के लिए PDP प्रमुख महबूबा मुफ्ती और शिवसेना (UBT) प्रमुख उद्धव ठाकरे भी पहुंचे हैं.

Sunita Kejriwal

CM अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल (ANI)

Lok Sabha Election 2024: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ रामलीला मैदान में विपक्षी दलों की रैली हो रही है. इस रैली में इंडी गठबंधन के तमाम नेता हिस्सा ले रहे हैं. रैली में PDP प्रमुख महबूबा मुफ्ती, महाराष्ट्र के पूर्व उद्धव ठाकरे, सपा प्रमुख अखिलेश यादव, पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, सीएम अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल और INDI गठबंधन के अन्य नेता मंच नजर आए.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी इंडी गठबंधन की रैली में हिस्सा लिया. इसके साथ ही CPI(M) महासचिव सीताराम येचुरी, आदित्य ठाकरे, NCP-SCP प्रमुख शरद पवार, AAP नेता आतिशी, गोपाल राय अन्य वरिष्ठ नेता मंच पर उपस्थित रहे.


CM अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने कहा, “मोदी जी ने मेरे पति को जेल में डाल दिया, क्या प्रधानमंत्री ने सही किया? क्या आप मानते हैं कि केजरीवाल एक सच्चे देश भक्त और ईमानदार व्यक्ति हैं? क्या केजरीवाल जी को इस्तीफा देना चाहिए? आपके केजरीवाल शेर हैं, ये ज़्यादा दिन तक आपको जेल में नहीं रख पाएंगे.”

केजरीवाल और हेमंत सोरेन का क्या कसूर?- महबूबा मुफ्ती

PDP प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा, “आज देश बहुत मुश्किल हालात से गुजर रहा है. ऐसा हाल है, ना कोई वकील, ना कोई दलील, ना कोई कार्रवाई, सीधा जेल. शायद कलयुग का अमृतकाल इसी को कहते हैं कि आप बिना कुछ पूछे लोगों को जेल में डाल देते हैं. कैसे उन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर बिना कोई वकालत और कार्रवाई के जेल में डाला जाता है. केजरीवाल और हेमंत सोरेन का क्या कसूर?”

ये भी पढ़ें: ‘राघव चड्ढा कहां हैं’, सवाल पूछ NCP ने डिलीट किया पोस्ट, कहा-उनसे दुखी हैं AAP कार्यकर्ता

शिवसेना (UBT) प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा, “आप (कल्पना सोरेन और सुनीता केजरीवाल) चिंता मत करो, सिर्फ हम ही नहीं पूरा देश आपके साथ है. कुछ दिन पहले आशंका थी कि क्या हमारा देश तानाशाही की ओर चल रहा है? लेकिन अब ये आशंका नहीं सच्चाई है. भाजपा को लग रहा होगा कि अरविंद केजरीवाल और हेमंत सोरेन को गिरफ्तार करने से लोग डर जाएंगे लेकिन उन्होंने अपने देशवासियों को कभी पहचाना नहीं.”

ज़रूर पढ़ें