Mahakaleshwar: महाकाल मंदिर में भस्म आरती के दौरान बड़ा हादसा, फैली आग, एक दर्जन पंडे, पुजारी और सेवक झुलसे

Mahakaleshwar: महाकाल मंदिर में हुई घटना के दौरान सीएम डॉ मोहन यादव के पुत्र और पुत्री भी घटना के दौरान घटनास्थल के पास ही मौजूद थे.

Mahakal Ujjain

महाकाल मंदिर हादसा

Mahakaleshwar: उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में रविवार की सुबह होली के दिन बड़ा हादसा हो गया है. यह हादसा मंदिर के गर्भगृह में भस्म आरती के दौरान हुआ है. भस्म आरती के दौरान यहां गुलाल उड़ाने से आग फैल गई, जिसके बाद उस आग में करीब एक दर्जन लोग झुलस गए हैं. इस हादसे में झुलसे लोगों को तुरंत नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

उज्जैन में भस्म आरती के दौरान महाकाल मंदिर के गर्भगृह में आग लगने के बाद लोगों ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया है. इस घटना के वक्त यहां होली का जश्न मनाया जा रहा था. इस घटना में एक दर्ज पांडे, पुजारी और सेवक आग में झुलस गए हैं. यहां होली उत्सव में गुलाल उड़ाने से आग फैल गई, जिसके बाद यह हादसा हुआ है.

इस घटना के संबंध में जानकारी देते हुए पुजारी आशीष शर्मा ने बताया, ‘महाकाल मंदिर में हर साल की तरह इस बार भी पारंपरिक होली समारोह का आयोजन हो रहा था. गुलाल की वजह से मंदिर के गर्भगृह में आग फैल गई, जिसके बाद मंदिर के पुजारी और सवेक समेत कई घायल हो गए हैं. घायलों को तुरंत इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है. ‘

13 लोग झुलसे

अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी में कहा गया, ‘भस्म आरती के दौरान गर्भगृह के अंदर जब पूजा चल रही थी तो उसमें आग भभकने का मामला सामने आया है. इस घटना में 13 लोग झुलस गए हैं. इन सभी को यहां जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उनका इलाज किया जा रहा है. इस मामले में सभी कारणों का पता करने के लिए जांच की जाएगी. किस वजह से यह घटना हुई है इसकी जांच होगी.’

ये भी पढ़ें: Delhi News: ED दफ्तर में सीएम अरविंद केजरीवाल से मिलीं उनकी पत्नी, हर दिन 30 मिनट मुलाकात की मिली इजाजत

बता दें कि महाकाल मंदिर में भस्मारती के मुख्य पुजारी संजय गुरु, विकास पुजारी, मनोज पुजारी, अंश पुरोहित, सेवक महेश शर्मा, चिंतामन गेहलोत सहित अन्य घायल हैं. सीएम डॉ मोहन यादव के पुत्र और पुत्री भी घटना के दौरान घटनास्थल के पास ही मौजूद थे.

ज़रूर पढ़ें