Moscow Concert Attack: मॉस्को आतंकी हमले में अब तक 115 लोगों की मौत, ISIS ने ली अटैक की जिम्मेदारी, 11 आरोपी अरेस्ट

Moscow concert attack: रूस की राजधानी मॉस्को में एक बड़े कॉन्सर्ट हॉल के अंदर बंदूकधारियों के एक समूह द्वारा की गई गोलियों से कम से कम 115 लोगों की मौत हो गई और 150 से अधिक घायल हो गए.

Moscow Concert Attack

मॉस्को में बड़ा आतंकी हमला, 93 लोगों की हुई मौत

Moscow concert attack: रूस की राजधानी मॉस्को में एक बड़े कॉन्सर्ट हॉल के बड़ा आतंकी हमला हुआ है. हॉल के अंदर बंदूकधारियों के एक समूह द्वारा की गई गोलियों से कम से कम 115 लोगों की मौत हो गई. जबकि कई लोगों के घायल होने की जानकारी है. हमलावरों ने कॉन्सर्ट हॉल में भी आग लगा दी. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा देश के चुनावों में भारी जीत के बाद सत्ता पर अपनी पकड़ मजबूत करने के कुछ दिनों बाद यह हमला हुआ. इस घटना से जुड़े 11 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

आतंकी समूह इस्लामिक स्टेट ने सोशल मीडिया पर संबद्ध चैनलों पर पोस्ट किए गए एक बयान में हमले की जिम्मेदारी ली है. हमलावरों ने ये हमला क्यों किया इसकी जानकारी अभी सामने नहीं आई है. आग की वजह से कॉन्सर्ट हॉल की छत ढह गई.

ये भी पढें- Delhi Liquor Scam: केजरीवाल से पहले कौन-कौन से सीएम हुए गिरफ्तार, जेल से कैसे चलेगी सरकार? जानिए पूरी डिटेल

हमले के दौरान हॉल में मौजूद थे 6200 लोग 

बता दें कि हमलावरों ने मॉस्को के पश्चिमी छोर पर स्थित एक म्यूजिक हॉल क्रोकस सिटी पर अचानक धावा बोल दिया. हमले के दौरान हॉल के अंदर लगभग 6200 लोग मौजूद थे. हमले के कुछ मिनट बाद ही व्लादिमीर पुतिन को इसकी जानकारी दी गई. जो लोग मरे और घायल हुए वे रूसी रॉक बैंड पिकनिक का प्रदर्शन देखने के लिए हॉल बैठे हुए थे. कुछ रूसी समाचार रिपोर्टों में सुझाव दिया गया है कि हमलावरों द्वारा विस्फोटक फेंकने के बाद भड़की आग में और भी लोग फंस सकते थे.

“लड़ाकू पोशाक पहन रखे थे हमलावर” 

घटना का अंजाम देने वाले हमलावरों के बारे में अभी तक ज्यादा कुछ पता नहीं चल पाया है. हालांकि, अधिकारियों का दावा है कि हमलावरों ने लड़ाकू पोशाकें पहन रखी थीं. रूसी मीडिया और टेलीग्राम चैनलों पर पोस्ट किए गए वीडियो में बार-बार गोलीबारी की आवाजें सुनी जा सकती हैं. एक में दो लोगों को राइफलों के साथ कार्यक्रम स्थल पर घूमते हुए दिखाया गया. अन्य लोगों ने चार हमलावरों को दिखाया, जो असॉल्ट राइफलों से लैस थे और टोपी पहने हुए थे, जो चिल्ला रहे लोगों को बिल्कुल नजदीक से गोली मार रहे थे.

जब यह हमला हुआ उस वक्त कंसर्ट हॉल के सुरक्षाकर्मियों के पास हथियार नहीं थे. कुछ रूसी समाचार संगठनों ने दावा किया कि रूसी विशेष बलों के पहुंचने से पहले हमलावर घटनास्थल से भाग गए. अधिकारी कई वाहनों की तलाश कर रहे थे जिनका इस्तेमाल हमलावर मौके से भागने के लिए कर सकते थे.

ज़रूर पढ़ें