MGNREGA Wage Rates Hike: चुनाव के बीच मजदूरों को बड़ा तोहफा, 10% तक बढ़ाई गई मनरेगा की मजदूरी

MGNREGA Wage Rates Hike: मनरेगा के तहत काम करने वालों की मजदूरी 3 से 10 फीसदी तक की बढ़ोतरी कर दी गई है.

MGNREGA

मनरेगा की मजदूरी बढ़ी (फोटो- सोशल मीडिया)

MGNREGA Wage Rates Hike: महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना यानी MGNREGA के तहत काम करने वाले मजदूरों के लिए चुनाव के बीच बड़ा ऐलान हो गया है. केंद्र सरकार ने काम करने वाले मजदूरों को बड़ा तोहफा दिया है. मनरेगा के तहत काम करने वालों की मजदूरी 3 से 10 फीसदी तक की बढ़ोतरी कर दी गई है. सरकार की ओर से इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है.

मनरेगा के तहत मजदूरी बढ़ाने से जुड़ा नोटिफिकेशन गुरुवार को जारी किया गया है. चुनाव के बीच जारी किए गए नोटिफिकेशन के अनुसार मनरेगा की बढ़ाई गई मजदूर वित्त वर्ष 2024-25 के दौरान लागू होगी. नोटिफिकेशन के अनुसार यह नई वेतन नीति 1 अप्रैल, 2024 से लागू की जाएगी. हालांकि सबसे कम बढ़ोतरी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में की गई है. वित्त वर्ष 2023-24 की तुलना में 2024-25 के दौरान इन राज्यों में केवल तीन फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

किस राज्य में कितनी है मजदूरी

इस बढ़ोतरी के बाद अब आंध्र प्रदेश में 300 रुपए, असम में 249 रुपए, बिहार में 245 रुपए, गुजरात में 280 रुपए, हरियाणा में 374 रुपए, झारखंड में 245 रुपए, मध्य प्रदेश में 243 रुपए, महाराष्ट्र में 297 रुपए, पंजाब में 322 रुपए, राजस्थान में 266 रुपए, तेलंगाना में 300 रुपए, उत्तर प्रदेश में 237 रुपए, उत्तराखंड में 237 रुपए और पश्चिम बंगाल में 250 रुपए प्रति दिन के हिसाब से मिलेंगे.

ये भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2024: चुनाव नहीं लड़ेंगी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, BJP के प्रस्ताव पर कहा- ‘मेरे पास पैसा नहीं’

सबसे ज्यादा मनरेगा की मजदूरी में बढ़ोतरी गोवा में हुई है, गोवा में करीब 10.6 फीसदी मजदूरी में बढ़ोतरी की गई है. हालांकि यह बढ़ोतरी ऐसे समय में की गई है जब बीते दिनों ही पश्चिम बंगाल सरकार ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि राज्य के मनरेगा का फंड नहीं दे रही है.

सूत्रों की मानें तो ग्रामीण विकास मंत्रालय ने यह नोटिफिकेशन जारी करने से पहले भारत निर्वाचन आयोग से इसकी अनुमति मांगी थी. बता दें कि चुनाव के दौरान देश में आचार संहिता लागू की गई है. जिस वजह से ऐसे कोई नया ऐलान करने से पहले आयोग से अनुमति लेनी होती है.

ज़रूर पढ़ें