LK Advani: बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को मिला सर्वोच्च सम्मान, राष्ट्रपति ने घर जाकर भारत रत्न से नवाजा

LK Advani Bharat Ratna: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने राजधानी दिल्ली में लालकृष्ण आडवाणी के आवास पर जाकर उन्हें सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहे.

LK Advani

लालकृष्ण आडवाणी को मिला सर्वोच्च सम्मान

LK Advani Bharat Ratna: भारत के पूर्व उप-प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी को रविवार, 31 मार्च को भारत रत्न से सम्मानित किया गया. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने राजधानी दिल्ली में आडवाणी के आवास पर जाकर उन्हें सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया. बता दें कि भाजपा के संस्थापक सदस्य लालकृष्ण आडवाणी अपने राजनीतिक जीवन में कभी चुनाव नहीं हारे. उन्होंने 1989, 1991, 1998, 1999, 2004, 2009 और 2014 में लोकसभा का चुनाव लड़ा और हर बार जीत दर्ज की.

किन्हें दिया जाता है भारत रत्न?

भारत रत्न सम्मान राष्ट्रीय सेवा जैसे विज्ञान, कला, साहित्य, सार्वजनिक सेवा व खेल के लिए दिया जाता है. अपने क्षेत्र में अहम कार्य व योगदान से देश का गौरव बढ़ाने वाले लोगों को भारत रत्न से सम्मानित किया जाता है.

ये भी पढ़ेंः ‘राघव चड्ढा कहां हैं’, सवाल पूछ NCP ने डिलीट किया पोस्ट, कहा-उनसे दुखी हैं AAP कार्यकर्ता

शनिवार, 30 मार्च को कृषि वैज्ञानिक डॉ. एमएस स्वामीनाथन, पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, पूर्व प्रधानमंत्री पी.वी. नरसिम्हा राव और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को मरणोपरांत सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया था. राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में स्वामीनाथन की बेटी नित्या राव, चौधरी चरण सिंह के पोते जयंत चौधरी, नरसिम्हा राव के बेटे पीवी प्रभाकर राव और कर्पूरी ठाकुर के बेटे रामनाथ ठाकुर ने यह सम्मान लिया. वहीं, तबीयत ठीक नहीं होने के कारण से लालकृष्ण आडवाणी समारोह में शामिल नहीं हो पाए थे. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने रविवार को उनके आवास पर जाकर उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया. इस दौरान पीएम मोदी भी मौजूद रहे.

कराची में जन्म-बने भारत के डिप्टी पीएम

बता दें कि लालकृष्ण आडवाणी का जन्म 8 नवंबर 1927 को कराची में हुआ था. वह अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में उप-प्रधानमंत्री रहे. इसके अलावा भारत के गृह मंत्री और सूचना एवं प्रसारण मंत्री भी रहे. आडवाणी अपने राजनीतिक जीवन में कभी चुनाव नहीं हारे. उन्होंने 1989, 1991, 1998, 1999, 2004, 2009 और 2014 में लोकसभा का चुनाव लड़ा और हर बार जीत दर्ज की.

ज़रूर पढ़ें