INDI Alliance Rally: लोकतंत्र, निष्पक्ष चुनाव, बेरोजगारी… विपक्ष की मेगा रैली में खड़गे और राहुल ने भरी हुंकार, जानिए क्या हैं गठबंधन की 5 मांगें

INDI Alliance Rally: दिल्ली के रामलीला मैदान में ‘INDI’ गठबंधन की ओर से 31 मार्च को दिल्ली में महारैली का आयोजन किया गया. इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और राहुल गांधी ने जमकर हमला बोला.

INDI Alliance Rally,

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और राहुल गांधी

INDI Alliance Rally: देश में लोकसभा चुनाव को लेकर सियासी सरगर्मी तेज हो चुकी है. वहीं लोकसभा चुनाव से ठीक पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी चीफ अरविंद केजरीवाल को ED ने गिरफ्तार कर लिया. इसे लेकर विपक्षी ‘INDI’ गठबंधन में शामिल AAP और कांग्रेस समेत अन्य दल केंद्र सरकार पर हमलावर हैं. इसी क्रम में दिल्ली के रामलीला मैदान में ‘INDI’ गठबंधन की ओर से 31 मार्च को दिल्ली में महारैली का आयोजन किया गया. कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और राहुल गांधी ने भी जमकर हमला बोला. इस दौरान प्रियंका गांधी ने ‘INDIA’ ब्लॉक की ओर से 5 सूत्रीय मांग भी रखी.

चुनाव निष्पक्ष नहीं हो रहे हैं- मल्लिकार्जुन खड़गे

दिल्ली में आज ‘INDIA’ ब्लॉक की मेगा रैली में ‘लोकतंत्र बचाओ’ के नारे को लेकर विपक्ष के तमाम नेताओं ने संबोधित किया. इस दौरान केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा. रैली में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि मौजूदा सरकार लोकतंत्र नहीं चाहते, वह तानाशाही की विचारधारा के हैं. उन्होंने कहा, ‘मुझसे राष्ट्रपति भवन में BJP के अध्यक्ष ने पूछा आपका चुनाव प्रचार कबसे शुरू हो रहा है? मैंने उनसे कहा चुनाव निष्पक्ष नहीं हो रहे हैं. पार्टी के खातों से पैसे चोरी हो गए. हजारों करोड़ का जुर्माना लगा दिया गया ताकि हम चुनाव प्रचार न कर सकें.’ उन्होंने कहा कि’लोकतंत्र बचाओ महारैली’ विविधता में एकता दिखाती है. हम सभी देश, लोकतंत्र और संविधान को बचाने के लिए एकजुट हुए हैं.

यह भी पढ़ें: INDI Alliance Rally: ‘केजरीवाल की गिरफ्तारी पर रो रहा भ्रष्टाचारियों का गिरोह’, इंडी गठबंधन की महारैली पर बोले मनोज तिवारी

‘मैच फिक्सिंग सफल होते ही संविधान खत्म’

वहीं कांग्रेस सांसद राहुल गांधी भी केंद्र सरकार हमलावर नजर आए. देश के बड़े मुद्दों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा, ‘मैंने जातिगत जनगणना, किसानों की MSP, बेरोजगारी पर बात की, लेकिन अगर आपने पूरी ताकत से वोट नहीं किया तो इनकी मैच फिक्सिंग सफल हो जाएगी. चुनाव को मैच से जोड़ते हुए उन्होंने कहा कि मैच फिक्सिंग सफल होते ही संविधान खत्म हो जाएगा, इसलिए यह चुनाव देश, संविधान और जनता के हक को बचाने का चुनाव है. उन्होंवने दावा किया कि मौजूदा केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र की BJP सरकार मैच फिक्सिंग से चुनाव जीत कर संविधान बदलना चाहती है.

यह भी पढ़ें: INDI Alliance Rally: ‘पिंजरे में तो शेर ही कैद होते हैं, हम BJP से नहीं डरने वाले’, इंडी गठबंधन की महारैली में बोले तेजस्वी यादव

दो मुख्यमंत्रियों को जेल में डाला- राहुल गांधी

उन्होंने संबोधन के दौरान आरोप लगाते हुए कहा कि प्लेयर खरीद कर, कैप्टन को डरा कर, अंपायर पर दबाव डाल कर और EVM के दम पर 400 पार का नारा लगा रहे हैं. कांग्रेस सांसद ने दावा किया कि हकीकत में सब मिला कर भी वह(BJP) 180 पार करने की हालत में नहीं हैं. उन्होंने कहा कि इलेक्शन कमीशन में अपने लोग बिठाए, दो मुख्यमंत्रियों को जेल में डाला, कांग्रेस के बैंक अकाउंट बंद कर दिए और न्यायपालिका पर दबाव डाल रहे हैं. यह कैसा चुनाव है. जहां नेताओं को धमकाया जा रहा है, सरकारें गिराई जा रही हैं और मुख्यमंत्रियों को जेल में डाला जा रहा है. उन्होंने कहा कि देश में 40 साल में आज सबसे ज्यादा बेरोजगारी है. चंद लोगों के पास देश का सारा धन है.

‘INDI’ गठबंधन की 5 सूत्रीय मांग

  • चुनाव आयोग को लोकसभा चुनावों में समान अवसर सुनिश्चित करना चाहिए.
  • चुनाव आयोग को चुनाव में हेराफेरी करने के उद्देश्य से विपक्षी दलों के खिलाफ जांच एजेंसियों की ओर से की जानी वाली कार्रवाई रोकी जानी चाहिए.
  • हेमंत सोरेन और अरविन्द केजरीवाल की तुरंत रिहाई की जाए.
  • चुनाव के दौरान विपक्षी राजनीतिक दलों का आर्थिक रूप से गला घोंटने की जबरन कार्रवाई तुरंत बंद होनी चाहिए.
  • चुनावी चंदे का उपयोग कर BJP की ओर से बदले की भावना, जबरन वसूली और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में SIT का गठन होना चाहिए.

ज़रूर पढ़ें