Lok Sabha Election 2024: नवनीत राणा को बीजेपी ने अमरावती से बनाया उम्मीदवार, जानें क्या है पार्टी का प्लान

बीजेपी के गठन के बाद से यह पहली बार है जब अमरावती लोकसभा सीट पर कमल निशान पर उम्मीदवार उतारा गया है. अमरावती की सांसद नवनीत राणा 2019 में कांग्रेस-एनसीपी के समर्थन से निर्दलीय चुनी गई थीं.

Navneet Rana

नवनीत राणा

Lok Sabha Election 2024: महाराष्ट्र में सीट बंटवारे को लेकर लंबा मंथन हुआ. हालांकि, इस बीच बीजेपी ने एक और लिस्ट जारी कर दी है. इस लिस्ट में नवनीत राणा का भी नाम शामिल हैं. नवनीत साल 2019 के लोकसभा चुनाव में अमरावती से निर्दलीय सांसद चुनी गई थी. अब बीजेपी ने उन्हें अमरावती से पार्टी सिंबल दिया है. महाराष्ट्र में बीजेपी ने खुद 35 सीटों पर चुनाव लड़ने का मन बनाया है और NDA में सहयोगी शिंदे को 9 और अजीत पवार गुट को 4 सीटों का ऑफर दिया है. बुधवार को बीजेपी ने दो उम्मीदवारों की 7वीं लिस्ट जारी की. बीजेपी के इस लिस्ट में केवल दो नाम शामिल है. पहला अमरावती से नवनीत राणा. दूसरा कर्नाटक के चित्रदुर्ग से गोविंद करजोल. इससे पहले बीजेपी ने 111 उम्मीदवारों की सूची जारी की थी.

अमरावती में नवनीत राणा का विरोध

अब तो बीजेपी ने नवनीत राणा को उम्मीदवार बना दिया है लेकिन बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से आग्रह किया गया है कि कुछ भी करें, लेकिन नवनीत राणा को टिकट न दें. इस बीच अमरावती में बीजेपी नेताओं ने ‘कुछ भी करो, लेकिन नवनीत राणा को उम्मीदवार मत बनाओ’ का नारा तेज कर दिया है. स्थानीय नेताओं का ये भी कहना है कि बीजेपी का उम्मीदवार एक पार्टी कार्यकर्ता होना चाहिए और हम उसे विजयी बनाने की जिम्मेदारी लेते हैं.

अमरावती में नवनीत राणा का विरोध

अब तो बीजेपी ने नवनीत राणा को उम्मीदवार बना दिया है लेकिन बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से आग्रह किया गया है कि कुछ भी करें, लेकिन नवनीत राणा को टिकट न दें. इस बीच अमरावती में बीजेपी नेताओं ने ‘कुछ भी करो, लेकिन नवनीत राणा को उम्मीदवार मत बनाओ’का नारा तेज कर दिया है. स्थानीय नेताओं का ये भी कहना है कि बीजेपी का उम्मीदवार एक पार्टी कार्यकर्ता होना चाहिए और हम उसे विजयी बनाने की जिम्मेदारी लेते हैं.

यह भी पढ़ें: Arvind Kejriwal Arrested: दिल्ली हाई कोर्ट से अरविंद केजरीवाल को राहत नहीं, 3 अप्रैल को होगी अगली सुनवाई, AAP को लगा झटका

अमरावती लोकसभा में पहली बार कमल !

बता दें कि बीजेपी के गठन के बाद से यह पहली बार है जब अमरावती लोकसभा सीट पर कमल निशान पर उम्मीदवार उतारा गया है. अमरावती की सांसद नवनीत राणा 2019 में कांग्रेस-एनसीपी के समर्थन से निर्दलीय चुनी गई थीं. हालांकि, राणा ने कुछ ही महीनों में एनडीए सरकार को समर्थन देने का फैसला किया.तब से वह बीजेपी के साथ हैं. इस साल वह बीजेपी से 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही हैं. और बीजेपी ने उनपर दांव लगाया है. नवनीत राणा के पति विधायक रवि राणा ने हाली में बयान दिया था कि नवनीत राणा बीजेपी के निशान पर ही चुनाव लड़ेंगी. इस बात से तो साफ हो गया है कि बीजेपी नवनीत के सहारे अमरावती लोकसभा सीट को फतह करना चाहती है.

 

ज़रूर पढ़ें