Lok Sabha Election: छत्तीसगढ़ दौरे पर आएंगे गृहमंत्री अमित शाह, 6 अप्रैल को कवर्धा में जनसभा को करेंगे संबोधित

Lok Sabha Election: राजनांदगांव लोकसभा सीट से अभी बीजेपी के संतोष पांडेय सांसद हैं. बीजेपी ने यहां से फिर से मौजूदा सांसद को ही टिकट दिया है. विधानसभा के नतीजों के अनुसार यह सीट कांग्रेस के लिए सुरक्षित मानी जा रही है. बीजेपी ने यहां से सामान्य वर्ग के उम्मीदवार संतोष पांडेय को उतारा है ऐसे में पार्टी भूपेश बघेल पर दांव खेलकर ओबीसी वोटर्स को साधने की कोशिश की है.

Chhattisgarh News

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह

Lok Sabha Election: छत्तीसगढ़ में 19 अप्रैल को पहले चरण का मतदान होना है. जिसके लिए कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही कोई कसर नहीं छोड़ रहे है. वहीं दोनों पार्टियों ने अपने स्टार प्रचारकों की लिस्ट भी जारी कर दी है. लगातार बड़े नेताओं कि जनसभा और रैली होने वाली है. इसी बीच खबर है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह छत्तीसगढ़ के दौरे पर आने वाले है. वह 6 अप्रैल को कवर्धा में विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे.

6 अप्रैल को कवर्धा में विशाल जनसभा में शामिल होंगे अमित शाह,

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का छत्तीसगढ़ के दौरे पर आने वाले है, वह राजनांदगांव लोकसभा में चुनावी सभा को करेंगे संबोधित. अमित शाह 6 अप्रैल को कवर्धा में विशाल जनसभा में शामिल होंगे. वह भाजपा प्रत्याशी संतोष पांडे के पक्ष में प्रचार-प्रसार करेंगे. उनके दौरे कि जानकारी गृहमंत्री विजय शर्मा ने दी है.

ये भी पढ़ें – दीपक बैज ने बीजेपी पर साधा निशाना, बोले- सत्ता का दुरुपयोग कर रही बीजेपी, यह लोकतंत्र का आपातकाल है

राजगांदगांव लोकसभा में ऐसा है समीकरण

राजनांदगांव लोकसभा सीट के अंतर्गत 8 विधानसभा सीटें आती हैं. इस बार के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के खाते में पांच सीटें आई थी. जबकि बीजेपी को 3 सीटों पर जीत मिली थी. राजनांदगांव लोकसभा सीट से अभी बीजेपी के संतोष पांडेय सांसद हैं. बीजेपी ने यहां से फिर से मौजूदा सांसद को ही टिकट दिया है. यह राज्य का वह क्षेत्र है जहां ओबीसी वोटर्स बड़ी संख्या में हैं.

विधानसभा के नतीजों के अनुसार यह सीट कांग्रेस के लिए सुरक्षित मानी जा रही है. बीजेपी ने यहां से सामान्य वर्ग के उम्मीदवार संतोष पांडेय को उतारा है ऐसे में पार्टी भूपेश बघेल पर दांव खेलकर ओबीसी वोटर्स को साधने की कोशिश की है. भूपेश बघेल, राज्य में ओबीसी के सबसे बड़े चेहरे हैं. वहीं, पूर्व सीएम की लोकप्रियता को भी पार्टी भुनाना चाहती है.

ज़रूर पढ़ें