Lok Sabha Election: ओपी चौधरी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, बोले- पहले छत्तीसगढ़ की जनता ने सबक सिखाया, अब देश की जनता कांग्रेस को सबक सिखाएगी

Lok Sabha Election: ओपी चौधरी ने कहा कि कांग्रेस एक डूबती नाव है, जिसमें छेद हो चुका है. नाव में पानी लगातार भर रहा है. इसलिए लोग कांग्रेस छोड़कर भागने पर मजबूर हैं.

Chhattisgarh News

वित्त मंत्री ओपी चौधरी

Lok Sabha Election: छत्तीसगढ़ विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष डॉ चरण दास महंत के पीएम वाले बयान पर पलटवार करते हुए प्रदेश के वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने कहा कि मोदी किसी व्यक्ति का नाम नहीं है. नरेंद्र मोदी एक सोच का नाम है, जो भारत को विकसित राष्ट्र बना रहा है.

पहले छत्तीसगढ़ की जनता ने सबक सिखाया, अब देश की जनता कांग्रेस को सबक सिखाएगी – ओपी चौधरी

वित्त मंत्री ने कहा कि मैं भी हूं मोदी मुझे मारो लाठी, हमारा हर कार्यकर्ता यह कह रहा है कि मैं भी हूं मोदी मुझे भी मारो लाठी. कांग्रेस की यह सोच रही है कि भय, आतंक और तानाशाही के साथ सरकार चलाना है. पहले छत्तीसगढ़ की जनता ने सबक सिखाया, अब देश की जनता कांग्रेस को सबक सिखाएगी. कल राजनांदगांव की सभा में डा. चरण दास महंत ने कहा था कि उन्हें ऐसा नेता चाहिए जो मोदी का सर फोड़ सके. छत्तीसगढ़ के वित्त मंत्री ओपी चौधरी बुधवार को एम सी बी जिला मुख्यालय पहुँचे. इस अवसर उन्होंने कहा कि मुताबिक छत्तीसगढ़ ही नहीं देशभर में नरेंद्र मोदी की सुनामी चल रही है. इसमें कांग्रेस पूरी तरह से बह जाएगी.

ये भी पढ़ें – सक्ति में महिला का बैंक खाता खोलकर 1. 75 करोड़ की हुई धोखाधड़ी, 3 लोगों पर FIR दर्ज

लोग कांग्रेस छोड़कर भागने पर मजबूर हैं

कांग्रेस एक डूबती नाव है, जिसमें छेद हो चुका है. नाव में पानी लगातार भर रहा है. इसलिए लोग कांग्रेस छोड़कर भागने पर मजबूर हैं. चौधरी ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी को कानूनी तौर पर सही बताया है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपना भरोसा खोते जा रही है. पहले उन्होंने नारा दिया भूपेश है तो भरोसा है. फिर उन्होंने कहा कि भरोसे की सरकार. हालांकि चुनाव के पहले ही समझ में आ गया था कि भूपेश से उनके कार्यकर्ताओं का का ही भरोसा उठ चुका है. राजनांदगाँव में कार्यकर्त्ता किस तरह से खुले मंच पर बात करते हैं, कोई पत्र लिख रहा है. कांग्रेस से उनके ही कार्यकर्त्ताओं का विश्वास उठ चुका है. आज कांग्रेस को छोड़कर महासमुंद ही नहीं बल्कि पूरे छत्तीसगढ़ में कांग्रेसी साथी अविश्वास के कारण कांग्रेस छोड़कर भाजपा के सदस्य बन रहे हैं.

ज़रूर पढ़ें