MP News: पाठ्य पुस्तकों में बदलाव पर बोले शिक्षा मंत्री राव उदय प्रताप- परिस्थितियों के हिसाब से पाठ्यक्रम में बदलाव स्वाभाविक

MP News: शिक्षा मंत्री और परिवहन मंत्री राव उदय प्रताप का पाठ्यक्रम बदलाव को लेकर कहना है कि ”यह एक सतत प्रक्रिया है हर कल और परिस्थितियों के हिसाब से पाठ्यक्रम में बदलाव होते रहते हैं.

education ministar

शिक्षा मंत्री और परिवहन मंत्री राव उदय प्रताप

भोपाल: नया शिक्षा सत्र शुरू होने वाला है, अब स्कूल शिक्षा विभाग पाठ्य पुस्तकों में बदलाव देखने को मिलेगें. यह बदलाव मध्य प्रदेश में सरकार के आदेश के बाद किया जा रहा है. पाठ्यक्रम में भगवान परशुराम, सावित्री फुले ज्योति पहले जनजाति नायक राजा शंकर शाह रघुनाथ शाह को भी शामिल किया जा रहा है. अब नए शिक्षा सत्र से 8वीं के हिंदी विषय में भगवान परशुराम के चरित्र के बारे में पढ़ाया जाएगा. इसकी घोषणा सरकार प्रदेश में पिछली सरकार के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने परशुराम जयंती पर की थी. शिवराज ने कहा था कि परशुराम का चरित्र स्कूलों में पढ़ाया जाएगा. इसे पाठ्यक्रम में शामिल करने के लिए अधिकारियों को जल्द निर्देश दिए गए हैं.

परिस्थितियों के हिसाब से पाठ्यक्रम में बदलाव होते रहते है: राव उदय प्रताप (शिक्षा मंत्री )

पाठ्य पुस्तकों में बदलाव को लेकर शिक्षा मंत्री और परिवहन मंत्री राव उदय प्रताप का कहना है कि ”यह एक सतत प्रक्रिया है हर कल और परिस्थितियों के हिसाब से पाठ्यक्रम में बदलाव होते रहते हैं. मुझे लगता है कि हमारी संस्कृति को शिक्षा के साथ जोड़ा जाता है तो इससे बड़ा कोई विषय नहीं हो सकता हमारे माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी की एक सोच एक विजन के साथ एक शिक्षा नीति लाए ऐसी शिक्षा नीति जो हमारी संस्कृति को भविष्य में प्रेरक के रूप में बच्चों के सामने आएगी ऐसी शिक्षा नीति जब बच्चे बड़े हो और अगर शिक्षा से हमारे अतीत में जिनके अनुसरण के कारण दुनिया आगे बढ़ी, गौरवशाली भारत आगे बढ़ रहा है. हमारे पूर्वजों के कारण संस्कृति के जो प्रोधा थे जिनके चलते आज हमारी संस्कृति धरोहर बची है. अगर हम बच्चों को शिक्षा के माध्यम से बता रहे हैं तो कहीं अनुचित नहीं है और यह हर युग में होता है और होना चाहिए आज के युग के श्रेष्ठतम लोग में समझता हूं. आने वाले 25 सालों में उनका समाहित किया जाना चाहिए संस्कृति की रक्षा करने की जिम्मेदारी वर्तमान व्यवस्था की होती है. माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी और मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में हमारा विभाग भी यह कार्य कर रहा है.”

ये भी पढ़े: रोचक चुनावी इतिहास वाले शहडोल में इस बार बीजेपी की हिमाद्री और कांग्रेस के फुंदेलाल मार्को के बीच होगा मुकाबला

सीएम राइजिंग स्कूलों की संख्या 8000 तक पहुंचानी है

राव उदय प्रताप ने ग्रामीण स्कूलों की दुर्दशा को लेकर कहा कि पिछले 10-12 सालों में शिक्षा के रूप में परिवर्तन लाए हैं. राज्य में हम पीएम श्री और सी एम राइस स्कूलों के माध्यम से इंफ्रास्ट्रक्चर को अच्छा करने का काम कर रहे हैं. प्राइवेट स्कूलों से बेहतर संसाधन हम उपलब्ध करा रहे हैं बेहतर शिक्षण की परिस्थितियों हम पैदा कर रहे हैं शिक्षण जगत का युग परिवर्तन का दौर है. अगले 5-7 साल में हम 8000 सी एम राइस स्कूल खड़े करने का हमारा लक्ष्य अभी 300 नए सी एम राइस स्कूल चल रहे हैं कुल 600 स्कूल सी एम राइस है, इन्हें हमको 8000 तक ले जाना है हमने इसी चुनौती के रूप में लिया है माननीय मुख्यमंत्री का लक्ष्य हर बच्चे को अच्छी शिक्षा मिले यह हमारा और हमारे माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी का लक्ष्य है.

इस बार एमपी में 29 की 29 सीट BJP जीतेगी

नर्मदा पुरम नरसिंहपुर से राव उदय प्रताप जी सांसद रह चुके हैं उनका कहना है कि इस समय देश में व्यक्ति दल और सीमाओं से ऊपर उठ गया है. पूरे देश में एक ही विषय है कि किस तरह मोदी जी को तीसरी बार देश का नेतृत्व दिया जाए, आम जनमानस में कोई विषय ही नहीं है कि कौन भारतीय जनता पार्टी से लड़ रहा है और कौन कांग्रेस से लड़ रहा है हमारा प्रत्याशी कौन है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमारा निशान है हमारा निशान कमल निशान है इस लक्ष्य को लेकर राष्ट्रवादी लोग पूरे देश में काम कर रहे हैं देश में चारों ओर एक ही नारा गूंज रहा है. अबकी बार 400पार उसे लक्ष्य को पाने में होशंगाबाद संसदीय क्षेत्र की भी सहभागिता होगी मध्य प्रदेश में हम 29 की 29 सीट जीत रहे हैं पिछली बार हमारे पास 28 सीट थी इस बार 29 की 29 सीट भारतीय जनता पार्टी जीतेगी.

 

 

ज़रूर पढ़ें