MP News: सतना लोकसभा सीट से BSP प्रत्याशी नारायण त्रिपाठी का बयान- BJP दिल्ली के नेताओं ने मुझे दी धमकी

Satna Lok Sabha Seat: लोकसभा प्रत्याशी बनाए जाने के बाद पहली बार नारायण त्रिपाठी आज सतना पहुंचे, जहां उन्होंने बसपा के कार्यालय का उद्घाटन के बाद बसपा कार्यकर्ताओं सम्मेलन कार्यक्रम में शामिल हुए.

satna bsp candidate narayan tripathi

सतना लोकसभा सीट से बसपा प्रत्याशी नारायण त्रिपाठी कार्यकर्ता सम्मेलन कार्यक्रम में शामिल हुए

सतना: जिले के मैहर विधानसभा क्षेत्र पूर्व विधायक नारायण त्रिपाठी जो कि हमेशा अपने बयानबाजी  के चलते मीडिया की सुर्खियों में बने रहते हैं. त्रिपाठी लगातार अलग-अलग दल से चार बार मैहर विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने जा चुके हैं, तो वहीं अब बहुजन समाज पार्टी से नारायण त्रिपाठी सतना लोकसभा प्रत्याशी बनाए गए हैं.  सतना लोकसभा सीट बसपा से प्रत्याशी बनाए जाने के बाद नारायण त्रिपाठी पहली बार सतना पहुंचे. जहां उन्होंने कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान शहर के एक निजी पैलेस में बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा और कहा कि मेरा कोई भी कुछ नहीं कर सकता.

कार्यकर्ताओं सम्मेलन कार्यक्रम में शामिल हुए

लोकसभा प्रत्याशी बनाए जाने के बाद पहली बार सतना पहुंचे नारायण त्रिपाठी ने बसपा के कार्यालय का उद्घाटन के बाद बसपा कार्यकर्ताओं सम्मेलन कार्यक्रम में शिरकत की. इस कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान नारायण त्रिपाठी ने अपने बयानों में बीजेपी सरकार पर तीखे तीर छोड़े, त्रिपाठी ने कहा कि यहां के कुछ नेता अपने लैंडलाइन का नंबर दिल्ली के नेताओं के नाम पर अपने मोबाइल में सेव करके टिकट दिलाने का कार्य करते हैं, और वह ऐसे बताते हैं जैसे उनकी कृपा से ही टिकट वितरण होती है, या फिर ऐसे ही अब बात फैला देते हैं कि नारायण त्रिपाठी उनके ही कहने पर चुनाव लड़ते हैं और टिकट उन्हें हमने दिलाई है, मैं एक बात साफ कह देना चाहता हूं कि मैं विंध्य के लोगों के विश्वास जीतने को लेकर चुनाव लड़ता हूं ना कि नेता बनने के लिए.

ये भी पढ़े: लोकसभा चुनाव के लिए BSP ने जारी की प्रत्याशियों की सूची, जानिए कौन सा उम्मीदवार किस लोकसभा सीट से लड़ेगा चुनाव

बंधुआ मजदूर बनकर कार्य नहीं कर सकता

नारायण त्रिपाठी ने कहा कि मैं अलग-अलग दल से चुनाव लड़ चुका हूं, और मैं यह बता दूं कि मैं किसी का बधुआ मजदूर बनकर कार्य नहीं कर सकता हूं, भारतीय जनता पार्टी के नेता मुझे दिल्ली से धमकी दे चुके हैं क्योंकि भोपाल वालों की हैसियत ही नहीं है कि मुझे धमकी दे सकें. त्रिपाठी ने आगे कहा कि कभी ईडी की धमकी तो कभी कार्यवाही की धमकी मुझे मिल चुकी है, एक बार पूर्व सीएम शिवराज सिंह जी ने भी मुझे धमकी दी थी कि यह सारी चीज बंद कर दो वरना कड़ी कार्रवाई हो जाएगी, तब मैं शिवराज जी से कहा था कि आप अपने स्वभाव के विपरीत मेरे से बात कर रहे हैं, इसके बावजूद भी मैं नहीं माना और लगातार अपने बिना की मुद्दों की आवाज उठाता रहा हूं.

सतना सांसद गणेश सिंह पर बोला हमला

भारतीय जनता पार्टी को मैं यह बता दूं कि मैं कोई खदान नहीं चलता हूं, मैं कोई व्यापारी नहीं हूं, मेरा कोई धंधा बिजनेस नहीं है इसलिए ना मुझे सरकार का डर है और ना ही मुझे ईडी का डर है, और मैं इतना जानता हूं कि इनके पास जब भी कुछ होता तो मेरे साथ कुछ भी हो सकता था, और कभी भी यह मेरे साथ कुछ कर सकते हैं, इनका कोई ठिकाना नहीं है, इनका कोई अपना नहीं है, इसके साथ ही नारायण त्रिपाठी ने खुले मन से सतना सांसद गणेश सिंह पर हमला बोलते हुए कहा कि वह तो साम, दाम, दंड, भेद, अस्त्र-शस्त्र से वोट की राजनीति कर रहे हैं धिक्कार है ऐसे सीनियर लीडर पर, जो अपने कर्मों पर वोट नहीं मांगते.

ज़रूर पढ़ें