MP News: कोटा में शिवपुरी की बेटी का अपहरण, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तुरंत की राजस्थान के CM से बात

Student kidnapped in Kota: :छात्रा के पिता ने कहना है कि पुलिस ने रात तीन बजे मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस बेटी की तलाश में जुटी हुई है.

Jyotiraditya Scindia talking to Rajasthan Chief Minister Bhajanlal Sharma

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राजस्थान मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा से बात करते हुए

शिवपुरी: राजस्थान के कोटा में लगातार आत्महत्याओं और गुमशुदगी की घटनाएं सामने आ रही हैं. एक बार फिर कोटा में एक छात्रा का अपहरण किया कर लिया गया. छात्रा मध्य प्रदेश के शिवपुरी की रहने वाली है. सूत्रों के मुताबिक, कुछ बदमाशों ने कोचिंग सेंटर से दूर जाकर छात्रा का अपहरण किया और उसे बंधक बना लिया. छात्रा के परिवार ने पुलिस को इस मामले की जानकारी दी और पुलिस मामले में जांच में जुट गई है.

नीट की तैयारी के लिए कोटा गई थी छात्रा

आरोपियों ने अपहरण के 48 घंटे बाद बच्ची के पिता से संपर्क किया. छात्रा के पिता रघुवीर धाकड़ ने बताया कि उनकी बेटी काव्या धाकड़ कोटा में नीट की तैयारी के लिए कोटा गई हुई थी. वह कोटा में सितंबर 2023 से रह रही थी. 18 मार्च सोमवार को दोपहर 3 बजे छात्र के पिता रघुवीर के मोबाइल पर सोशल मीडिया एप व्हाट्सएप पर एक नंबर से मैसेज आया. मैसेज में छात्रा के हाथ पैर और मुंह बंधे हुए फोटो थी. इनमें कुछ फोटो में छात्रा के चेहरे पर खून भी नजर आ रहा है. फोटो भेजने वाले ने मैसेज में लिखा कि रघुवीर की बेटी को किडनैप कर लिया गया है. उसे जिंदा छोड़ने के बदले 30 लाख रुपए की फिरौती मांगी गई.

ये भी पढ़े: कैलाश विजयवर्गीय ने बीजेपी कार्यकर्ताओं में फूंका जोश, बोले- कलदार सिक्का कलदार ही रहेगा

पिता ने बताया छात्रा को परेशान किया जाता था

छात्रा के पिता ने कहना है कि पुलिस ने रात तीन बजे मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस बेटी की तलाश में जुटी हुई है. रघुवीर धाकड़ ने बताया दो साल पहले बेटी को इंदौर में रहकर नीट की तैयारी कर रही थी. जहां पोहरी अनुविभाग क्षेत्र के जरियाखेड़ा गांव के रहने वाले रिंकू धाकड़ द्वारा बेटी को परेशान किया गया था. इसकी शिकायत इंदौर पुलिस में दर्ज कराई गई थी.

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने  CM भजन लाल शर्मा से की बात

परेशान पिता की खबर केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया तक पहुंची तो वह तुरंत ही इस मामले की तहकीकात में लग गए. साथ ही बोले, पुलिस जल्द से जल्द तहकीकात कर हमारी बेटी को वापस लाए. पीड़ित बच्ची के पिता से भी मंत्री सिंधिया ने फोन पर बात की और बोले कि बेटी को वापस लाना अब मेरी जिम्मेदारी है, वह बस आपकी बेटी नहीं, मेरी भी बेटी है.

 

 

ज़रूर पढ़ें