मुख्तार अंसारी के घर पहुंचे असदुद्दीन औवैसी, परिवार को दी सांत्वना, बोले- हम उनके समर्थकों के साथ हैं

Mukhtar Ansari Death: एआईएमआईएम प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी रविवार देर रात यूपी के गाजीपुर पहुंचे. यहां उन्होंने माफिया और विधायक रहे मुख्तार अंसारी के घर मोहम्मदाबाद पहुंचकर उनके परिवार के लोगों से मुलाकात की.

Mukhtar Ansari Death

मुख्तार अंसारी के घर पहुंचे AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी

Mukhtar Ansari Death: एआईएमआईएम प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी रविवार देर रात यूपी के गाजीपुर पहुंचे. यहां उन्होंने माफिया और विधायक रहे मुख्तार अंसारी के घर मोहम्मदाबाद पहुंचकर उनके परिवार के लोगों से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने मुख्तार अंसारी के इस तरह जेल में मौत हो जाने को लेकर सवाल उठाए और मुख्तार अंसारी के बेटे समेत अन्य परिजनों को भी सांन्त्वना दी.

मुख्तार अंसारी के घर वह देर रात पहुंचे. इस दौरान प्रशासन ने चाक-चौबंद व्यवस्था कर रखी थी और जरूरत के लिए अन्य बलों की भी तैनाती थी. इस दौरान मुख्तार अंसारी के घर के बाहर काफी भीड़ भी देखी गई.

ये भी पढ़ें- Lok Sabha Election: मेरठ में सीएम योगी ने भरी हुंकार, बोले- ये दंगावादियों, कर्फ्यूवादियों को फिर से सही जगह बिठाने का चुनाव

एक्स पर पोस्ट कर ओवैसी ने दी जानकारी

मुख्तार अंसारी के परिवार से मुलाकात के बाद ओवौसी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर पोस्ट लिखी, जिसमें उन्होंने लिखा कि, ‘आज मरहूम मुख्तार अंसारी के घर गाजीपुर जाकर उनके खानदान को पुरसा दिया, इस मुश्किल वक्त में हम उनके खानदान, समर्थक और चाहने वालों के साथ खड़े हैं. इंशा अल्लाह इन अंधेरों का जिगर चीरकर नूर आएगा, तुम हो ‘फिरौन’ तो ‘मूसा’ भी जरूर आएगा.

इलाज को लेकर ओवैसी ने उठाया था सवाल

 

बता दें कि जब बीते गुरुवार को बांदा जेल में बंद  मुख्तार अंसारी की मौत हुई तब भी ओवौसी ने अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की थी. मुख्तार अंसारी के कार्डियेक अरेस्ट से मौत के बाद उन्होंने एक्स  पर लिखे पोस्ट में मुख्तार अंसारी के इलाज को तवज्जो नहीं देने का आरोप लगाया था और इसे निंदनीय कहा था. अपने पोस्ट में उन्होंने लिखा था कि, ‘इन्ना लिल्लाही वा इन्ना इलैही रजियून. अल्लाह से दुआ है के वो मुख़्तार अंसारी को मग़फ़िरह अदा करें, उनके ख़ानदान और उनके चाहने वालों को सब्र्-ए-जमील अदा करें.

ओवैसी ने आगे लिखा कि गाजीपुर की अवाम ने अपने चहीते बेटे और भाई को को खो दिया. मुख्तार साहब ने प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाया था के उन्हें ज़हर दिया गया था. बावजूद इसके, सरकार ने उनके इलाज पर तवज्जो नहीं दिया. निंदनीय और अफसोसजनक.

लंबे समय से जेल में था मुख्तार अंसारी

गौरतलब है कि गुरुवार के दिन मुख्तार अंसारी की मौत हो गई थी. बांदा जेल में उसकी तबीयत अचानक बिगड़ गई थी, जिसके बाद उसे मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए ले जाया गया. यहां करीब 1 घंटे के इलाज के बाद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था. मुख्तार अंसारी की मौत के बाद प्रदेश भर में पुलिस अलर्ट मोड में आ गई है.

ज़रूर पढ़ें