Chhattisgarh News: चुनाव नहीं लड़ने वाले कवासी लखमा के बयान पर सीएम साय ने किया पलटवार, बोले- कांग्रेस की हालत पतली, उनको भी लगने लगा है डर

Chhattisgarh News: दरअसल जगदलपुर के लालबाग मैदान में नामांकन सभा के दौरान लखमा जनसभा को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान लखमा ने बेहद मजाकिया अंदाज में कहा कि मैं अपने बेटे के लिए डौकी (यानी कि पत्नी) मांगने गया था. पार्टी ने मुझे पत्नी पकड़ा दिया.

Chhattisgarh News

सीएम विष्णु देव साय

Chhattisgarh News: लोकसभा चुनाव पास है, ऐसे में बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टी के नेता एक-दूसरे पर जमकर बयानबाजी कर रहे है. वहीं पूर्व केन्द्रीय मंत्री कवासी लखमा ने यह बयान दिया था कि वह चुनाव नहीं लड़ना चाहते थे, पार्टी ने उन्हे टिकट दे दिया. उनके इस बयान को लेकर सीएम विष्णु देव साय ने पलटवार किया है.

कवासी लखमा, कांग्रेस की हालत पतली है, कवासी लखमा को भी भय हो गया है – सीएम विष्णु देव साय

बस्तर से कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी कवासी लखमा के चुनाव नहीं लड़ने वाले बयान पर सीएम विष्णु देव साय ने कहा कि कवासी लखमा, कांग्रेस की हालत पतली है. कवासी लखमा को भी भय हो गया है. उन्होंने कहा कि पहले वह बोलते थे हमको या हमारे बेटे को चुनाव में टिकट मिल सकता है. लेकिन अब उनको हार निश्चित दिख रहा है, और कह रहे हैं कि हम बेटे के लिए बोल रहे थे. सीएम ने कहा कि हम लोग 11 की 11 सीट जीत रहे हैं.

ये भी पढ़ें – इस दिन जारी होगी महतारी योजना की दूसरी किस्त, सीएम साय ने की घोषणा

कवासी लखमा ने दिया था ये बयान

दरअसल जगदलपुर के लालबाग मैदान में नामांकन सभा के दौरान लखमा जनसभा को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान लखमा ने बेहद मजाकिया अंदाज में कहा कि मैं अपने बेटे के लिए डौकी (यानी कि पत्नी) मांगने गया था. पार्टी ने मुझे पत्नी पकड़ा दिया. लखमा के इस बयान के बाद सभा में ठहाके लगने लगे.

बता दें कि पीसीसी अध्यक्ष दीपक बैज का टिकट काटकर बस्तर लोकसभा से कांग्रेस ने कोंटा विधानसभा से 6 बार के विधायक कवासी लखमा को प्रत्याशी बनाया है. टिकट की दौड़ में कवासी लखमा दिल्ली तक पहुंच गए थे. लखमा चाहते थे की पार्टी से उनके बेटे हरीश कवासी को टिकट मिले.

 

ज़रूर पढ़ें