“तय कर लें पिता कौन हैं?”, BJP सांसद Dilip Ghosh की ममता बनर्जी पर विवादित टिप्पणी, TMC ने चुनाव आयोग से की शिकायत

अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बारे में भाजपा नेता दिलीप घोष की अशोभनीय टिप्पणी के आरोप पर चुनाव आयोग ने पश्चिम बर्धमान के जिला मजिस्ट्रेट से रिपोर्ट मांगी है.

Dilip Ghosh, Mamata Banarjee

दिलीप घोष, ममता बनर्जी

Dilip Ghosh On Mamata Banarjee: बीजेपी की नेता और बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत पर विवादित टिप्पणी का मामला अभी शांत नहीं हुआ था कि अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर अपमानजनक टिप्पणी की गई है. पश्चिम बंगाल की बर्धमान-दुर्गापुर सीट से बीजेपी उम्मीदवार दिलीप घोष ने ममता बनर्जी पर निशाना साधने के दौरान विवादित टिप्पणी कर दी. उन्होंने कहा, “दीदी (मुख्यमंत्री ममता बनर्जी) जब गोवा जाती हैं तो खुद को गोवा की बेटी कहती हैं, जब त्रिपुरा जाती हैं तो कहती हैं त्रिपुरा की बेटी हैं, वे पहले अपने पिता की पहचान करें?

दिलीप घोष पर लगा आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप

अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बारे में भाजपा नेता दिलीप घोष की अशोभनीय टिप्पणी के आरोप पर चुनाव आयोग ने पश्चिम बर्धमान के जिला मजिस्ट्रेट से रिपोर्ट मांगी है. बर्धमान-दुर्गापुर लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी उम्मीदवार दिलीप पर सीधे तौर पर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगा है. राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (CEO) के मुताबिक, जिलाधिकारी से रिपोर्ट मांगी गई है. रिपोर्ट आने पर इसे आयोग के दिल्ली स्थित कार्यालय में भेजा जाएगा.आयोग जांच कर निर्णय देगा.

भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दिलीप ने मंगलवार को स्थानीय भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ दुर्गापुर पहुंचे. वहां उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी के बारे में कहा, तृणमूल उम्मीदवार कीर्ति आजाद ने देश का प्रतिनिधित्व किया. एक क्रिकेटर के तौर पर मैं उनका सम्मान करता हूं. लेकिन ये राजनीति है और वो दीदी का हाथ पकड़ कर आ गया. दीदी के पैर कांप रहे हैं. अब उसके घरवाले उसे धक्का देकर दूर कर देते हैं. उन्हें कभी पता नहीं चलेगा कि बंगाल की जनता उन्हें कब खदेड़ देगी.

यह भी पढ़ें: Lok Sabha Election: आतंकी हमले में दादा की मौत, कांग्रेस से तीन बार रहे सांसद… जानें कौन हैं रवनीत सिंह बिट्टू, जिन्होंने थामा BJP का दामन

टीएमसी ने चुनाव आयोग से की शिकायत

दिलीप का दावा है, “बिहार, यूपी की दीदी गोवा गईं और कहा कि वह गोवा की लड़की हैं. त्रिपुरा जाओ और त्रिपुरा की बेटी कहो. इसके बाद उन्होंने कथित तौर पर ममता पर भद्दे निजी हमले किए. खड़गपुर से निवर्तमान भाजपा सांसद की टिप्पणियों की निंदा करते हुए, पश्चिम बर्धमान जिला तृणमूल अध्यक्ष नरेंद्रनाथ चक्रवर्ती ने कहा, “शुभेंदु अधिकारी का पीछा करते हुए मेदिनीपुर से दुर्गापुर आए. अब वे ऐसे बेलगाम बयानों से बाजार गर्म करना चाहते हैं.

ममता के बारे में दिलीप की टिप्पणी के विरोध में तृणमूल ने चुनाव आयोग से संपर्क किया. उसे देखते हुए आयोग ने रिपोर्ट मांगी है. इसका जवाब देते हुए दिलीप ने कहा, ”मैं चुनाव आयोग को बताऊंगा कि क्या कहना है.”हर बार चुनाव से पहले तृणमूल महिला कार्ड खेलती है, जिससे आम लोग प्रभावित होते हैं. अलग-अलग जगहों पर जाएं और जो चाहें टिप्पणी करें. मुझे प्रश्न पूछने का अधिकार है. हर कोई नहीं कर सकता. मैंने किया मैं चुनाव आयोग को जवाब दूंगा.

ज़रूर पढ़ें