“मेरे ऊपर एनर्जी वेस्ट न करें, बल्कि…”, Sanjay Nirupam ने कांग्रेस को दिया अल्टीमेटम

संजय निरुपम ने एक्स पोस्ट में लिखा है, “कांग्रेस पार्टी मेरे लिए ज़्यादा ऊर्जा और स्टेशनरी नष्ट ना करे, बल्कि अपनी बची-ख़ुची ऊर्जा और स्टेशनरी का इस्तेमाल करे,पार्टी को बचाने के लिए करे.”

Sanjay Nirupam

Sanjay Nirupam

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव की तारीख अब नजदीक आ गई है और इस बीच कांग्रेस को एक और बड़ा झटका लगा है. दरअसल, महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता वरिष्ठ नेता संजय निरुपम (Sanjay Nirupam) ने पार्टी छोड़ने का ऐलान किया है. इससे पहले उन्हें पार्टी ने स्टार कैंपेनर्स के लिस्ट से बाहर का रास्ता दिखा दिया था. वहीं अब संजय निरुपम ने एक्स पोस्ट में लिखा है, “कांग्रेस पार्टी मेरे लिए ज़्यादा ऊर्जा और स्टेशनरी नष्ट ना करे, बल्कि अपनी बची-ख़ुची ऊर्जा और स्टेशनरी का इस्तेमाल करे, पार्टी को बचाने के लिए करे. वैसे भी पार्टी भीषण आर्थिक संकट के दौर से गुजर रही है. मैंने जो एक हफ़्ते की अवधि दी थी, वह आज पूरी हो गई है. कल मैं खुद फ़ैसला ले लूंगा. हालांकि, संजय ने अभी तक अपने बायो से कांग्रेस मैन लिखा हुआ नहीं हटाया है. अब कहा जा रहा है कि वह जल्द ही पार्टी का साथ छोड़ सकते हैं.

मुंबई उत्तर पश्चिम से अमोल कीर्तिकर को टिकट मिलने से नाराज हैं निरुपम

निरुपम तब से नाराज हैं जब कांग्रेस की सहयोगी उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना (यूबीटी) ने मुंबई उत्तर पश्चिम में अमोल कीर्तिकर को उम्मीदवार घोषित किया था. उन्होंने कहा था, “नेतृत्व को स्थानीय नेताओं की परवाह नहीं है. पिछले दो सप्ताह में किसी ने मुझसे बात नहीं की. किसी ने मुझसे नहीं पूछा कि क्या कोई विकल्प है. किसी ने मुझसे नहीं पूछा कि मैं यह चुनाव क्यों लड़ना चाहता हूं. ऐसे समय में जब कांग्रेस नेतृत्व समाज के विभिन्न वर्गों तक न्याय पहुंचाने की बात कर रहा है, वह अपनी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ हुए अन्याय पर ध्यान नहीं दे रहा है.”

संजय निरुपम ने कहा, “मैं नेतृत्व से कहना चाहता हूं कि मैं एक सप्ताह तक इंतजार करूंगा. मेरे लिए सभी विकल्प खुले हैं. मैं बिना किसी विकल्प के नहीं बैठा हूं और अंत तक लड़ाई के लिए तैयार हूं. मैं एक सप्ताह के बाद घोषणा करूंगा. ” इसके बाद आज संजय ने एक्स पोस्ट में कहा है कि कांग्रेस को दिया डेडलाइन अब समाप्त हो गया है. मैं खुद ही कल फैसला लूंगा.

ज़रूर पढ़ें