MP News: ग्वालियर के स्टूडेंट को मिला 46 करोड़ का INCOME TAX का नोटिस, छात्र रह गया हैरान

Income Tax Notice: खास बात यह है कि 3 सालों के दौरान प्रमोद के पास न तो उसके अकाउंट में कोई पैसा आया न ही पैसा गया है. 

gwalior news

प्रमोद दंडोतिया जीवाजी विश्वविद्यालय से एमए अंग्रेजी में पढ़ाई कर रहा है

ग्वालियर: जिले की जीवाजी यूनिवर्सिटी से एमए कर रहे छात्र प्रमोद दंडोतिया पिछले तीन महीने से परेशान है. प्रमाेद को आयकर विभाग का नोटिस प्राप्त हुआ है. प्रमाेद ग्वालियर जिले के हस्तिनापुर के रहने वालें है. आरोप है कि इस छात्र के पैन कार्ड से अज्ञात लोगों ने एक फार्म बनाकर फ्रॉड किया गया और पिछले तीन सालों में लगभग 46 करोड़ से ज्यादा का लेनदेन किया गया है. प्रमाेद को ट्रांजैक्शन का पता तब लगा जब उसके पास आयकर विभाग का नोटिस पहुंचा. इनकम टैक्स अफसरों ने उस पर जीएसटी चोरी करने का आरोप लगाया है.

छात्र के अकाउंट से नही हुआ कोई लेनदेन

प्रमोद का कहना है कि वह अपनी फीस आदि जमा करने के लिए कई बार पैन कार्ड का इस्तेमाल कर चुका है. छात्र ने संभावना जताई है कि किसी ने उसके पैन कार्ड की कॉपी कर उससे जीएसटी फर्म बना ली. यह फर्में दिल्ली और पुणे में कार्यरत बताई गई है. खास बात यह है कि 3 सालों के दौरान छात्र के पास न तो उसके अकाउंट में कोई पैसा आया न ही पैसा गया है.

ये भी पढ़े: एमपी के इंदौर से पकड़ी गई नशे की खेप, 7.70 करोड़ रुपए कीमत की हाई क्वॉलिटी ब्राउन शुगर बरामद

जीएसटी चोरी करने का आरोप

प्रमोद दंडोतिया गरीब परिवार से हैं. अब प्रमोद को कोरोनाकाल में करोड़ों के लेनदेन में अपने नाम का इनकम टैक्स का नोटिस प्राप्त हुआ है. इससे पहले पहली बार प्रमोद 27 जनवरी को नोटिस मिला था, जिसके बाद कई प्रमोद ने जीएसटी डिपार्टमेंट कलेक्टर और पुलिस के आला अधिकारियों से तक मुलाकात की लेकिन उनकी समस्या का समाधान नहीं हुआ.

सायबर सेल में शिकायत दर्ज कराने की मिली सलाह

कालेज स्टूडेंट प्रमोद को जब कई मदद नही मिली तो वो शुक्रवार को भी क्राइम ब्रांच के एडिशनल एसपी के पास पहुंचे और अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया. अब पुलिस ने छात्र को सायबर सेल में शिकायत दर्ज कराने की सलाह दी है. वहीं आयकर विभाग के अफसर छात्र को पुलिस के पास जाकर अपने साथ हुए फ्रॉड की FIR दर्ज कराकर उसकी प्रति डिपार्टमेंट में जमा कराने को कह रहे हैं. इस मामले में एडिशनल एसपी सियाज के एम का कहना है मामले की जांच की जा रही है.

ज़रूर पढ़ें