MP News: पूरे एक साल का हो गया भारत की धरती पर जन्मा शावक, कूनो नेशनल पार्क में खुशी का माहौल

Kuno Nation Park: मादा चीता ज्वाला ने पहली बार भारत की धरती पर चार शावकों को जन्म दिया था जिसमें मात्र एक शावक ही बच पाया था.

kuno national park cheetah

ज्वाला चीता की पहली मादा शावक 29 मार्च से पूरे 1साल की हो गया

भोपाल: श्योपुर में कूनो नेशनल पार्क में भारत की धरती पर जन्मा शावक 29 मार्च को पूरे 1 साल का हो गया. कूनो नेशनल पार्क में खुशी का माहौल है. वहीं कूनों प्रबंधन द्वारा शावक के जन्मदिन को सेलिब्रेट किया जा रहा है.

मादा चीता ज्वाला ने दिया था 4 शावको को जन्म

दरअसल 17 सितंबर को नामीबिया से लाई गई मादा चीता ज्वाला ने पहली बार भारत की धरती पर चार शावकों को 29 मार्च 2023 को जन्म दिया था. इसमें से तीन की मौत हो गई थी. जबकि एक शेष बचा है, यह चीता फीमेल है जो अब 29 मार्च को एक साल का हो चुका है. अब इसका नामकरण किया जायेगा.इसकी खुशी कूनो प्रबंधन द्वारा मिठाई वितरण कर मनाई जा रही है. शावक (चीता) पूरी तरह स्वस्थ है. अठखेलियां करते हुए उसका एक वीडियो भी है जिसमे कही खाना खा रहा है तो कही शिकार पर घात लगाने तो दौड़ने का है.

ये भी पढ़े: दस साल बाद फिर से मंडला सीट पर आमने-सामने होंगे फग्गन सिंह कुलस्ते और ओंकार सिंह मरकाम

मुश्किल से बची थी एक शावक की जान

17 सितंबर  को पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर नामीबिया से 8 चीतों को भारत लाया गया था. जिसके बाद ज्वाला ने पिछले साल 2023 में चार शावकों को जन्म दिया गया था. लेकिन भीषण गर्मी के चलते दो माह बाद ही तीन शावकों की मौत हो गई थी. एक मात्र जीवित बचे शावक को उस समय बमुश्किल से विशेषज्ञों की निगरानी में उपचार के बाद बचाया जा सका था, अभी कूनो नेशनल पार्क में यह फीमेल चीता ( शावक ) पूरे एक साल का हो चुका है और यह शिकार भी करने लगा है.

मादा चीता ज्वाला ने हाल ही में 6 शावकों को दिया जन्म

बता दें कि हाल ही में मादा चीता ज्वाला ने दूसरी बार 6 शावकों को जन्म दिया है, जबकि मादा चीता आशा गामिनी ने 4 और 3 शावकों को जन्म दिया है. बता दें कि कूनो में अब चीतों की संख्या 27 हो गई है, जबकि कूनो में जन्म लेने वाले शावकों की संख्या 14 है.

 

 

ज़रूर पढ़ें