MP News: कांग्रेस से संजय शर्मा तो BJP से दर्शन सिंह चौधरी मैदान में, दिलचस्प हुआ नर्मदापुरम का मुकाबला

Lok Sabha Election: नरसिंहपुर नर्मदा पुरम लोकसभा में अब तक आठ बार बीजेपी और छह बार कांग्रेस तो दो बार अन्य पार्टी को जीत मिली है.

Lok Sabha election sanjay sharma

लोकसभा पर इस बार कांग्रेस ने संजय शर्मा तो बीजेपी ने दर्शन सिंह चौधरी को चुनावी मैदान में उतारा है,

नर्मदापुरम: लोकसभा चुनाव के तरीखों की घोषणा हो चुकी है. इस बार देश में चुनाव 7 चरण में आयोजित होगें. वहीं एमपी में 4 चरण में चुनाव की प्रकिया पूरी होगी. लोकसभा चुनाव के नतीजे 4 जून को आएगें. इस बार नर्मदा पुरम नरसिंहपुर लोकसभा सीट में कांटे की टक्कर देखने को मिल सकती है. क्योंकि इस बार  कांग्रेस ने कद्दावर नेता संजय शर्मा को चुनावी मैदान में उतर कर मुकाबला को काफी रोमांचक बना दिया है. नरसिंहपुर नर्मदा पुरम लोकसभा में अब तक आठ बार बीजेपी और छह बार कांग्रेस तो दो बार अन्य पार्टी को जीत मिली है.

दर्शन सिंह चौधरी बीजेपी से तो संजय शर्मा कांग्रेस से नर्मदा पुरम नरसिंहपुर से अपनी उम्मीदवारी पेश कर रहे हैं बीजेपी ने अपनी लोकसभा सेट की घोषणा कांग्रेस से काफी पहले करती थी जिसे बीजेपी के प्रत्याशी दर्शन सिंह चौधरी लगातार अपने क्षेत्र में प्रचार कर रहे हैं वहीं कांग्रेस ने संजय शर्मा का नाम होशंगाबाद नरसिंहपुर से दिया है और संजय शर्मा भी आप अपने क्षेत्र में कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मिल रहे हैं.

दर्शन सिंह चौधरी किसान नेता के रूप में जाने जाते हैं और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के काफी करीबी माने जाते हैं. दर्शन सिंह चौधरी पहले शिक्षक थे बाद में उन्होंने नौकरी छोड़कर पूर्णकालिक राजनीति शुरू कर दी किसान नेता के रूप में किसने की समस्याओं को लेकर कई आंदोलन किया कई बार जेल भी गए.

ये भी पढ़े: CM मोहन यादव ने अरविंद केजरीवाल पर साधा निशाना, बोले- AAP के दो मंत्री जेल में बंद फिर भी पार्टी ने नहीं किया निष्कासित

 2023 में संजय शर्मा को मिली थी हार

संजय शर्मा तीन बार तेंदूखेड़ा विधानसभा से विधानसभा का नेतृत्व कर चुके हैं. 2023 में विश्वनाथ से पटेल से लगभग 12500 वोटो से चुनाव हार गए थे. संजय शर्मा काफी दमदार नेता माने जाते हैं कांग्रेस के संजय शर्मा ने दो बार बीजेपी से विधानसभा का नेतृत्व किया और एक बार कांग्रेस की टिकट पर तेंदूखेड़ा विधानसभा पर अपनी जीत हासिल की थी. संजय शर्मा की कार्यकर्ताओं में अच्छी पकड़ जुझारू नेता के रूप में जानी जाती है. संजय शर्मा कांग्रेस की टिकट पर नर्मदा पुरम नरसिंहपुर लोकसभा प्रत्याशी हैं.

2019 के चुनाव में राव उदय प्रताप ने एक तरफ जीत हासिल की और कांग्रेस के दीवान शैलेंद्र सिंह को 5 लाख से ज्यादा वोटो से हराया. बाद में  उदय प्रताप गाडरवारा विधानसभा से चुनाव लड़े और अब मध्य प्रदेश शासन में कैबिनेट मंत्री हैं. राव उदय प्रताप के न लड़ने के चलते आज बीजेपी में दर्शन सिंह चौधरी को अपना उम्मीदवार बनाया है.

प्रदेश के दो मुख्यमंत्री भी लड़ चुके हैं चुनाव

नरसिंहपुर होशंगाबाद से प्रदेश के दो मुख्यमंत्री भी चुनाव लड़ चुके हैं. एक मुख्यमंत्री को जीत तो दूसरे मुख्यमंत्री को हार मिली थी, कांग्रेस से प्रत्याशी अर्जुन सिंह लोकसभा का अपना चुनाव हार गए थे. पूर्व केंद्रीय मंत्री सरताज सिंह ने अर्जुन सिंह को चुनाव हराया था. सुंदरलाल पटवा मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भी नरसिंहपुर होशंगाबाद से चुनाव लड़ चुके हैं और इन्होंने इस लोकसभा सीट से अपना चुनाव जीता था.

अब लोकसभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है देखना है कि ऊंट किस करवट बैठता है, हालांकि मोदी की लहर में कांग्रेस कहीं ना कहीं थोड़ी कमजोर दिखाई दे रही है. लेकिन संजय शर्मा की उम्मीद वारी के चलते नरसिंहपुर होशंगाबाद लोकसभा सीट पर मुकाबला दिलचस्प हो गया है.

ज़रूर पढ़ें