Mahakal Mandir: महाकाल मंदिर हादसे के होगी मजिस्ट्रेट जांच, सीएम मोहन यादव बोले- ‘मैं खुद वहां जा रहा हूं,दोषियों पर कार्रवाई होगी’

Mahakal Mandir: महाकाल हादसे पर सीएम मोहन यादव ने कहा कि कुछ पुजारी इंदौर में भर्ती हैं और कुछ उज्जैन में भर्ती हैं.

CM Mohan Yadav

सीएम मोहन यादव (फोटो- सोशल मीडिया)

Mahakal Mandir: होली के दिन उज्जैन के महाकाल मंदिर में रविवार को भस्म आरती के दौरान एक बड़ा हादसा हुआ है. भस्म आरती के दौरान आग में झुलसे ने से 13 पुजारी घायल हो गए हैं. इस हादसे में सीएम डॉ मोहन यादव की प्रतिक्रिया आई है. उन्होंने इस हादसे के मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दे दिए हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज मुझे जानकारी आई है कि सुबह भस्म आरती में अंदर मंदिर के जो चांदी की परत चढ़ी रहती है उसको बचाने के लिए गुलाल रंगते हैं. जिसके लिए अंदर पर्दा बनाया गया था. संयोग से भस्म आरती के वक्त आरती की थाली में गुलाल गिरा और उसी वक्त पर्दे जले हैं. उसी दौरान आरती की थाली पुजारी के ऊपर पलटी है. उसकी वजह से कुछ पुजारी घायल हुए हैं.

उन्होंने कहा कि कुछ पुजारी इंदौर में भर्ती हैं और कुछ उज्जैन में भर्ती हैं. मैं खुद वहां जा रहा हूं. भगवान की दया है कि कोई बड़ी घटना नहीं घटी है. जो घटना हुई है उसके मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए हैं. जांच में जो भी दोषी होगी उसपर कार्रवाई करेंगे. इस तरह की घटना आगे न घटे इसके लिए जो निष्कर्ष आएंगे उसपर काम किया जाएगा.

दुर्घटना दुखद- मुख्यमंत्री

सीएम मोहन यादव ने कहा, ‘आज प्रात: महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में हुई दुर्घटना में घायलों का कुशलक्षेम जानने मैं इंदौर होते हुए उज्जैन के लिए निकल चुका हूं. आज प्रातः बाबा महाकाल मंदिर के गर्भगृह में भस्म आरती के दौरान हुई दुर्घटना दुखद है.’

ये भी पढ़ें: Mahakaleshwar: महाकाल मंदिर में भस्म आरती के दौरान बड़ा हादसा, फैली आग, एक दर्जन पंडे, पुजारी और सेवक झुलसे

उन्होंने कहा कि मैं सुबह से ही प्रशासन के संपर्क में हूं. सब नियंत्रण में है. बाबा महाकाल से प्रार्थना है कि सभी घायल शीघ्र ही पूर्णतः स्वस्थ हों. बता दें कि घटना के बारे पुजारी आशीष शर्मा ने बताया, ‘महाकाल मंदिर में हर साल की तरह इस बार भी पारंपरिक होली समारोह का आयोजन हो रहा था. घायलों को तुरंत इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है. ‘

ज़रूर पढ़ें