Lok Sabha Election 2024: सपा नेताओं के ‘गेम में फंसे’ अखिलेश यादव, खत्म नहीं हो रहा ड्रामा, बार-बार बदलना पड़ रहा टिकट

Lok Sabha Election 2024: समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव अब तक करीब राज्य की 10 सीटों पर प्रत्याशी बदल चुके हैं.

Akhilesh Yadav, Illegal Mining Case

सपा प्रमुख अखिलेश यादव

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव के लिए दूसरे चरण के नामांकन का गुरुवार को अंतिम दिन है. वहीं दूसरी ओर कुछ दिन बाद ही राज्य में पहले चरण के तहत आठ सीटों पर वोट डाले जाएंगे. लेकिन समाजवादी पार्टी अभी तक अपने ही ‘गेम में फंसी’ हुई नजर आती है. अखिलेश यादव ने अब बागपत सीट से अपना प्रत्याशी बदलकर ऐसा ही संदेश दिया है.

सपा ने अब तक उत्तर प्रदेश में लगभग दस उम्मीदवार बदले हैं, जिसमें मेरठ से सपा प्रत्याशी भी शामिल हैं. बीजेपी द्वारा उम्मीदवारों का ऐलान किए जाने के बाद सपा लगातार अपने उम्मीदवारों को बदल रही है. गुरुवार को दूसरे चरण के नामांकन का अंतिम दिन है लेकिन अभी तक सपा राज्य में अपने उम्मीदवारों का नाम फाइनल नहीं कर पाई है.

मेरठ में उम्मीदवार बदलने की तैयारी

अब सूत्रों की मानें तो मेरठ सीट पर फिर से सपा अपना उम्मीदवार बदल सकती है. अखिलेश यादव आखिरी समय में इस सीट पर अपना उम्मीदवार बदल सकते हैं. वहीं दूसरी ओर बदायूं सीट फिर से चर्चा में आ गई है. जहां अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव अपनी जगह बेटे आदित्य यादव को चुनाव लड़वाना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2024: पीएम मोदी की रैली से पहले तेजस्वी यादव ने खोला ‘BJP के परिवारवाद का चैप्टर’, जारी की सूची, कहा- ‘आशा है PM जिक्र करेंगे’

हालांकि बीते दिनों ऐसा ही कुछ ड्रामा रामपुर और मुरादाबाद सीट पर देखने को मिला था. उम्मीदवारों का नाम फाइनल नहीं हो पाने के कारण और लगातार हो रहे बदलाव के बीच सपा प्रमुख अखिलेश यादव अभी तक पश्चिमी यूपी में अपना प्रचार अभियान शुरू नहीं कर पाए हैं, जबकि अब पहले चरण की वोटिंग में केवल दो हफ्ते का वक्त बचा हुआ है.

बता दें कि सपा ने अब तक मुरादाबाद, रामपुर, बागपत, मेरठ, बिजनौर, गौतम बुद्ध नगर, बदायूं और मिश्रिख सीट पर उम्मीदवार बदला है. गौतम बुद्ध नगर में पार्टी ने दो बार उम्मीदवार बदल दिया है. बता दें कि राज्य में पहले चरण के लिए 19 अप्रैल को वोट डाले जानें हैं, इस चरण में आठ सीटों पर वोटिंग होगी.

ज़रूर पढ़ें