Lok Sabha Election 2024: अखिलेश यादव ने फिर बदला अपना फैसला, अतुल प्रधान को मेरठ से बनाया उम्मीदवार

Lok Sabha Election 2024: समाजवादी पार्टी ने सोमवार को मेरठ और खुजराहो सीट पर अपने मौजूदा प्रत्याशी को बदल कर नए चेहरे को उम्मीदवार बनाया है.

Akhilesh Yadav

सपा प्रमुख अखिलेश यादव

Lok Sabha Election 2024: समाजवादी पार्टी ने सोमवार की देर रात अपने दो प्रत्याशियों के नाम का ऐलान किया है. पार्टी ने मेरठ सीट पर अब अपना प्रत्याशी बदल कर नए प्रत्याशी के नाम का ऐलान कर दिया है. पहले सपा ने बदायूं, गौतम बुद्ध नगर, मुरादाबाद और मिश्रिख सीट पर अपना प्रत्याशी बदला था. लेकिन अब पार्टी ने मेरठ में प्रत्याशी बदलकर सपा विधायक अतुल प्रधान को उम्मीदवार बना दिया है.

सपा ने सोमवार की देर रात अपने दो उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया. पार्टी ने मेरठ सीट पर प्रत्याशी बदल कर अतुल प्रधान को टिकट दिया. जबकि आगरा सीट पर सुरेश चंद्र कदम के नाम का ऐलान अपने प्रत्याशी के तौर पर कर दिया. हालांकि पहले सपा ने मेरठ में भानु प्रताप को अपना उम्मीदवार बनाया था. हालांकि पहले ही सपा ने चार सीटों पर उम्मीदवार बदला था.

इन सीटों पर बदला प्रत्याशी

सपा ने पहली लिस्ट में बदायूं से धर्मेंद्र यादव को अपना उम्मीदवार बनाया था. लेकिन इसके बाद दूसरी लिस्ट में धर्मेंद्र यादव की जगह शिवपाल यादव को अपना प्रत्याशी बना दिया. बाद में सपा ने धर्मेंद्र यादव को आजमगढ़ सीट से अपना प्रत्याशी बनाया था. इसके अलावा गौतम बुद्ध नगर से पार्टी ने राहुल अवाना को पहले उम्मीदवार बनाया और फिर उनकी जगह महेंद्र नागर को अपना प्रत्याशी बना दिया.

ये भी पढ़ें: 80 की उम्र में 34 की दुल्हनिया लेकर घर आया बुजुर्ग, सोशल मीडिया पर हुआ प्यार, कोर्ट में रचाई शादी

वहीं बीते दिनों मुरादाबाद में सपा प्रत्याशी बदले जाने की चर्चा सुर्खियों में खूब रही थी. तब अखिलेश यादव ने पहले मौजूदा सांसद एसटी हसन को अपना उम्मीदवार बनाया था. लेकिन नामांकन के अंतिम दिन एसटी हसन की जगह रुचि वीरा को अपना प्रत्याशी बनाने का ऐलान कर दिया, हालांकि अभी इस सीट पर पार्टी के फैसले का जमकर विरोध हो रहा है.

पहले सपा ने मिश्रिख से रामपाल राजवंशी को प्रत्याशी बनाया था. बाद में रामपाल राजवंदी की जगह उनके बेटे मनोज राजवंशी को अपना प्रत्याशी बनाया था. लेकिन इसके बाद फिर पार्टी ने मनोज राजवंशी की जगह रामपाल राजवंशी की पत्नी संगीता राजवंशी को प्रत्याशी बना दिया था.

ज़रूर पढ़ें