Lok Sabha Election 2024: वायनाड से आज नामांकन करेंगे कांग्रेस नेता राहुल गांधी, बहन प्रियंका रहेंगी मौजूद, चुनौती देने पहुंचे रहीं स्मृति ईरानी

Lok Sabha Election 2024: केरल की सभी 20 लोकसभा सीटों पर दूसरे चरण के तहत वोटिंग होनी है. राज्य में बीते 28 मार्च से नामांकन की प्रक्रिया चल रही है.

Rahul Gandhi

कांग्रेस नेता राहुल गांधी

Lok Sabha Election 2024: कांग्रेस नेता राहुल गांधी बुधवार को केरल से वायनाड से नामांकन करेंगे. वह लगातार दूसरी बार इस सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. उनके नामांकन में पार्टी महासचिव और उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा मौजूद रहेंगी. कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों की पहली सूची में ही राहुल गांधी को वायनाड से प्रत्याशी घोषित किया था.

राहुल गांधी बुधवार को वायनाड में नामांकन करने से पहले एक रोड शो में करेंगे. इस बार वायनाड सीट पर उनके खिलाफ सीपीआई महासचिव डी राजा की पत्नी एनी राजा चुनाव लड़ रही हैं. जबकि बीजेपी के टिकट पर प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन वायनाड से चुनाव लड़ रहे हैं. सूत्रों की मानें तो इस बार वायनाड में तीनों के बीच कड़ी टक्कर है.

इस बार केरल की सभी 20 लोकसभा सीटों पर दूसरे चरण के तहत वोटिंग होनी है. राज्य में बीते 28 मार्च से नामांकन की प्रक्रिया चल रही है. राज्य की सभी सीटों पर 26 अप्रैल को वोटिंग होगी. लेकिन इससे पहले बुधवार को राज्य के कई बड़े नेताओं का नामांकन होगा. राहुल गांधी भी कांग्रेस उम्मीदवार के तौर पर अपना नामांकन दाखिल करेंगे.

क्या बोले बीजेपी नेता

राहुल गांधी के नामांकन से पहले बीजेपी प्रत्याशी के सुरेंद्रन ने कहा, ‘वायनाड में राहुल गांधी आखिरकार नामांकन दाखिल करने आ रहे हैं. राहुल गांधी द्वारा बैन संगठन पीएफआई की राजनीतिक शाखा एसडीपीआई की ओर से यूडीएफ द्वारा दिए गए समर्थन पर अपना रुख साफ करना चाहिए.’ उन्होंने कहा कि एसडीपीआई ऐसा संगठन है जो देश को तोड़ना चाहता है. कांग्रेस हमेशा यूडीएफ का समर्थन करना चाहती है.

ये भी पढ़ें: Delhi Liquor Scam Case: CM अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी पर हाईकोर्ट में सुनवाई आज, ED ने हलफनामा में कहा- ‘पूरी साजिश की जानकारी थी’

बता दें कि राहुल गांधी के नामांकन के अगले दिन केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी वायनाड पहुंच रही हैं. वह बीजेपी उम्मीदवार और प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन के नामांकन में शामिल होंगी. पिछले चुनाव में राहुल गांधी ने वायनाड से 4.31 लाख वोटों को अंतर से चुनाव में जीत दर्ज की थी.

ज़रूर पढ़ें