MP News: लोकसभा चुनाव को लेकर अलर्ट मोड में एमपी पुलिस, डीजीपी ने सभी एसपी को किया अलर्ट, मतदान केंद्रों, स्ट्रांग रूम, मतगणना केंद्रों की सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश

Lok Sabha Election2024: डीजीपी ने निर्देश दिया कि अंतर्राज्यीय चेक पोस्ट को सक्रिय किया जाए. अवैध मादक पदार्थ, अवैध हथियार और अन्य प्रतिबंधित वस्तुओं के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जाए.

MP police image

पीएचक्यू से डीजीपी सुधीर सक्सेना ने जोनल पुलिस महानिरीक्षक, रेंज उप महानिरीक्षक और पुलिस अधीक्षकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की

भोपाल: मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव को लेकर पुलिस अलर्ट मोड पर है. पीएचक्यू से डीजीपी सुधीर सक्सेना ने जोनल पुलिस महानिरीक्षक, रेंज उप महानिरीक्षक और पुलिस अधीक्षकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए की. उन्होंने सभी पुलिस अधिकारियों को लोकसभा चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण और पारदर्शी तरीके से संपन्न करवाने के दिशा-निर्देश दिए.

चुनाव के मद्देनजर प्रदेश की कानून-व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखने लिए पुलिस ने कवायद तेज कर दी है. इस बार चुनाव के दौरान ईद और होली का त्योहार पुलिस के सामने बड़ी चुनौती है. इस संबंध में डीजीपी ने रमजान, होली और ईद के अवसर पर कड़े सुरक्षा प्रबंध सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए, उन्होंने कहा कि जिलों में शांति समितियों की बैठकें करने के साथ ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारी धर्मगुरुओं से समय-समय पर संवाद और समन्वय बनाए रखें. कहीं किसी प्रकार की समस्या या परेशानी होने की स्थिति में उसका समाधान समय से सुनिश्चित कराया जाए.

डीजीपी ने कहा कि ”सभी संवेदनशील क्षेत्रों व हॉट स्पॉट की लिस्ट बनाकर वरिष्ठ अधिकारी खुद उनका भ्रमण करें साथ ही सुरक्षा प्रबंधों की भी समीक्षा करें.” उन्होंने मतदान केंद्रों, स्ट्रांग रूम तथा मतगणना केंद्रों की सुरक्षा के प्रभावी प्रबंधन, माफिया के विरुद्ध कार्रवाई, शराब व मादक पदार्थ तस्करों की धरपकड़ और अवैध शस्त्रों की बरामदगी को लेकर विस्तार से निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि आयोजन स्थलों और मिली-जुली आबादी वाले क्षेत्रों और जुलूस मार्गों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था करें. उन्होंने सीसीटीवी और ड्रोन कैमरों के जरिये निगरानी और प्रमुख स्थानों पर डायल 100 की पीआरवी को मुस्तैद किए जाने के निर्देश दिए.

ये भी पढ़े: एटीएस ने अवैध हथियार बनाने वाले अंतर्राज्यीय नेटवर्क का किया खुलासा, अवैध आर्म्स फैक्ट्री पर दी दबिश, पिस्टल और सैकड़ों बैरल बरामद

अंतर्राज्यीय चेक पोस्ट को सक्रिय किया जाए

डीजीपी ने निर्देश दिया कि अंतर्राज्यीय चेक पोस्ट को सक्रिय किया जाए. अवैध मादक पदार्थ, अवैध हथियार और अन्य प्रतिबंधित वस्तुओं के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जाए. बॉर्डर मीटिंग पर चुनाव आयोग का विशेष फोकस रहता है. इसके दृष्टिगत डीजीपी ने सीमावर्ती जिलों के एसपी और अन्य प्रदेशों के पुलिस अधिकारियों से समन्वय और बॉर्डर चेकपोस्ट पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए. संवेदनशील क्षेत्रों को चिन्हित कर उनकी विशेष निगरानी की जाए. सभी संबंधित विभागों से भी परस्पर समन्वय स्थापित कर शांति एवं कानून व्यवस्था सुनिश्चित की जाए.

रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और एयरपोर्ट पर भी निगरानी रखें

डीजीपी सक्सेना ने कहा कि सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और एयरपोर्ट पर विशेष निगरानी रखें व इन स्थानों से आने-जाने वाले संदिग्धों की जानकारी जुटाएं.उन्होंने आचार संहिता के दौरान पुलिस द्वारा जब्त अवैध धनराशि व मादक पदार्थों की जानकारी चुनाव आयोग को प्रतिदिन समय सीमा में प्रेषित करने, सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को यथाशीघ्र कम्युनिकेशन प्लान तैयार करवाकर उसका अध्ययन करने तथा ऐसे संवेदनशील क्षेत्र, जहां नेटवर्क की समस्या हो, उन्हें चिन्हित करने के निर्देश दिए.

त्योहारों व चुनाव के दौरान निगरानी बनाएं रखें: एडीजी इंटेलिजेंस

एडीजी इंटेलिजेंस जयदीप प्रसाद ने कहा कि त्योहारों और चुनाव के दौरान सभी अधिकारी अपने जिलों में यात्री वाहनों में ओवरलोडिंग न हो, इस पर निगरानी रखें. उन्होंने कहा कि जहां पर सांप्रदायिक विवाद की स्थिति हो, ऐसे संवेदनशील क्षेत्र में सीसीटीवी के माध्यम से निगरानी रखें। साथ ही चुनाव के दौरान स्थिति न बिगड़े, इसके मद्देनजर क्षेत्र में रंगदारी करने वालों की जमानत रद्द करें.

ज़रूर पढ़ें