MP News: लोकसभा चुनाव में CM मोहन यादव और शिवराज देंगे सुझाव, 20 साल की सरकार में किए कामकाज की दिखेगी घोषणा पत्र में झलक

Lok Sabha Election 2024: भाजपा अपने 20 साल के मध्य प्रदेश में हुए विकास कार्यों को देशभर में लागू करने पर मंथन कर सकती है.

shiv raj singh chouhan and mohan yadav

फाइल फोटो शिवराज सिंह चौहान और मुख्यमंत्री मोहन यादव

भोपाल: मध्य प्रदेश सहित देश भर में लोकसभा के चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है. बीजेपी ने सभी प्रत्याशियों का ऐलान कर दिया है. अब जनता के बीच चुनावी मुद्दे को लेकर भाजपा मैदान में उतरेगी. इससे पहले लोकसभा चुनाव के मुद्दों को जनता के बीच ले जाने के लिए घोषणा पत्र तैयार किया जा रहा है. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव ने घोषणा पत्र समिति का गठन किया है. इस समिति में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव और 20 साल तक मुख्यमंत्री रहे शिवराज सिंह चौहान को भी कमेटी में सदस्य बनाया गया है. खास बात है कि दोनों ही बड़े नेताओं को कमेटी में शामिल करने से भाजपा के चुनावी घोषणा पत्र में मध्य प्रदेश की भी झलक दिखाई देगी. भाजपा अपने 20 साल के मध्य प्रदेश में हुए विकास कार्यों को देशभर में लागू करने पर मंथन कर सकती है. खासतौर से लाड़ली लक्ष्मी लाडली बहना जैसी जनहितकारी योजनाओं को अन्य राज्यों और देशभर में लागू करने पर बीजेपी मंथन करेगी. इसके अलावा गरीब कल्याण और विकास के एजेंड़ों को भी पूरा करने के लिए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव और पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान सुझाव देंगे.

ये भी पढ़े: सपा ने खजुराहो सीट पर उतारा उम्मीदवार, BJP प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के सामने होंगे डॉ. मनोज यादव

केंद्रीय योजनाओं पर सबसे ज्यादा रहेगा फोकस

साल 2024 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी पीएम मोदी के चेहरे और उनके कामकाज पर चुनाव लड़ रही है. 10 साल के प्रधानमंत्री के कार्यकाल में हुए गरीब कल्याण के मुद्दों पर ही चुनाव का फोकस रहेगा. ऐसे में केंद्रीय योजनाओं पर सबसे ज्यादा भाजपा के लोकसभा चुनावी घोषणा पत्र में मुद्दे होंगे. एक तरफ बीजेपी की उपलब्धि होगी. वहीं दूसरी तरफ आने वाले साल 2047 का ब्लूप्रिंट भी दिखाई देगा.

ज़रूर पढ़ें